इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि Indore News। शहर के मेट्रो प्रोजेक्ट का कारिडोर शास्त्री ब्रिज के आसपास कहां से गुजरेगा, इसे लेकर उलझन बढ़ गई है। पहले मेट्रो लाइन गांधी हाल के सामने बने बगीचे से होकर गुजरना थी, लेकिन रेलवे स्टेशन को मेट्रो ट्रेन की कनेक्टिविटी देने के लिए अब कारिडोर को स्टेशन तरफ से शास्त्री बाजार वाले हिस्से से गुजारने पर भी विचार हो रहा है। हालांकि, इन दोनों विकल्पों पर अभी अंतिम फैसला नहीं हुआ है और यह मामला अभी उलझ गया है। एक और दिक्कत शास्त्री ब्रिज के चौड़ीकरण की भी है। आइडीए इस ब्रिज को चौड़ा करने की योजना बना रहा है।

इस वजह से शास्त्री ब्रिज के आसपास से मेट्रो कारिडोर कैसे गुजरे, इसका फैसला नहीं हो पा रहा है। पिछले दिनों सांसद शंकर लालवानी नेे नगरीय विकास विभाग के प्रमुख सचिव मनीष सिंह के साथ जब मेट्रो ट्रेन कारिडोर के कार्यों की समीक्षा की थी। उस दौरान मेट्रो कंपनी के अधिकारियों ने बताया कि रेलवे स्टेशन को मेट्रो ट्रेन की कनेक्टिविटी देने के लिए लाइन अब शास्त्री मार्केट तरफ से बिछाने का प्रस्ताव है। यही जानकारी मिलने पर सांसद ने कहा था कि इस मामले में अकेले अधिकारी फैसला नहीं ले सकते। जनप्रतिनिधियों और बुद्धिजीवियों की सलाह के आधार पर निर्णय होना चाहिए।

मूल प्रस्ताव में गांधी हाल तरफ बनना है कारिडोर

मेट्रो प्रोजेक्ट के मूल प्रस्ताव में मेट्रो कारिडोर गांधी हाल तरफ ही बनना है। वहां मेट्रो लाइन बिछाने का विकल्प इसलिए रखा गया है, क्योंकि शास्त्री ब्रिज और गांधी हाल के बीच बगीचे की जमीन है। इसी हिस्से से मेट्रो कारिडोर भूमिगत होगा और राजवाड़ा, बड़ा गणपति होते हुए एयरपोर्ट तक भूमिगत रहेगा। एयरपोर्ट से आगे गांधी नगर से मेट्रो एलिवेटेड रहेगी।

आधिकारिक सूत्र भी मानते हैं कि गांधी हाल तरफ मेट्रो लाइन बिछाना ज्यादा आसान है। शास्त्री मार्केट में सैकड़ों दुकानें हैं, जिनका विस्थापन करना मेट्रो कंपनी के लिए भी काफी मुश्किलभरा होगा। हालांकि, गांधी हाल तरफ मेट्रो लाइन बिछाने से पहले मेट्रो कंपनी को यह सुनिश्चित करना होगा कि मेट्रो ट्रेन की आवाजाही सेे होने वाले कंपन से गांधी हाल की इमारत को नुकसान नहीं पहुंचे।

ऐसा रास्ता निकालेंगे कि किसी को दिक्कत नहीं आए

सांसद शंकर लालवानी का कहना है कि शहर के जनप्रतिनिधियों, बुद्धिजीवियों और तकनीकी विशेषज्ञों के साथ बैठक कर उन्हें मेट्रो प्रोजेक्ट की जानकारी देने के लिए जल्द ही बैठक रखेंगे। इसमें शास्त्री ब्रिज के आसपास मेट्रो लाइन को लेकर भी सुझाव लेकर उचित निर्णय लेंगे। एेसा रास्ता निकालेंगे कि आम जनता को भी परेशानी न हो और मेेट्रो कंपनी को भी काम करने में दिक्कत नहीं आए। इधर, निगमायुक्त प्रतिभा पाल ने कहा कि शास्त्री ब्रिज के आसपास मेट्रो लाइन को लेकर अभी कुछ फैसला नहीं हुआ है। आइडीए ब्रिज चौड़ा करने की योजना बना रहा है। जनप्रतिनिधियों के सुझाव के आधार पर फैसला लेंगे।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local