Solar Energy: इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। सौर ऊर्जा से कार्बन क्रेडिट हासिल करने के साथ बिजली की बचत में जुटा है नगर निगम। निगम जलूद में जहां सौर ऊर्जा का प्लांट लगाने की तैयारी में है। शहर में दो स्थानों पर सोलर पैनल लगाने के बाद निगम को हर माह करीब डेढ़ लाख रुपये की बचत की जाएगी। निगम ने स्मार्ट सिटी कंपनी के माध्यम से कबीट खेड़ी में लगे स्लज हाइजीनेशन प्लांट की छत व मैदान पर सोलर पैनल लगाया है। अब इससे विद्युत उत्पादन भी शुरू हो गया है। यहां पर 180 किलोवाट का सोलर संयत्र लगाया गया है। इस सोलर प्लांट के चालू होने के बाद निगम को प्लांट के संचालन में खर्च होने वाले 95 हजार रुपये की बचत होगी। स्मार्ट सिटी कंपनी द्वारा यहां लगाए गए सोलर प्लांट के निर्माण व पांच साल के मेंटनेस पर 77 लाख रुपये खर्च किए जा रहे है।

कंट्रोल कमांड सेंटर की छत पर बनेगी बिजली

स्मार्ट सिटी कंपनी द्वारा सिटी बस परिसर में बने कंट्रोल कमांड सेंटर की छत पर 58 किलोवाट का सोलर संयत्र लगाया जा रहा है। अभी सोलर प्लांट का संचालन शुरू होना बाकी है। कंट्रोल कमांड सेंटर के संचालन में अभी प्रतिमाह तीन लाख रुपये का बिजली बिल आता है। अब यहां लगाए गए सोलर प्लांट से बनने वाली बिजली से बिल में 50 हजार रुपये की प्रतिमाह बचत होगी।

जलूद में सोलर प्लांट लगने से तीन से चार करोड़ की होगी बचत

जलूद से इंदौर 70 किलोमीटर दूर से पानी लाने पर अभी नगर निगम हर महीने 18 करोड़ रुपये खर्च करता है। स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत जलूद में 60 मेगावाट का सोलर प्लांट लगाने की तैयारी है। इस प्लांट के निर्माण व 10 साल के संचालन पर 287 करोड़ रुपये खर्च होंगे। ऐसे में इस प्लांट से तैयार होने वाली बिजली से प्रतिमाह तीन से चार करोड़ रुपये की बचत होगी। हालांकि अभी इस प्लांट को तैयार के लिए जमीन चिन्हित हुई।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close