Indore News : इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। इंदौर प्रशासन अवैध कालोनी काटने वालों के खिलाफ सख्त हुआ है। मंगलवार रात दो अवैध कालोनियों के मामले में हीरानगर थाना में एफआइआर करवाई गई। एक एफआइआर में भाजपा नेता आइपीएस यादव का भी नाम है। मामले की जांच हीरानगर थाने के एसआइ को सौंपी गई है। पुलिस ने कालोनी से संबंधित दस्तावेज मांगे हैं।

एडिशनल डीसीपी जोन-3 राजेश रघुवंशी के मुताबिक पहला मामला केशव नगर (अवैध) का है। इस कालोनी के मामले में पुलिस ने आइपीएस यादव निवासी गोविंद नगर खारचा, बाबूलाल शंकरलाल, रेशम बाई, कमला बाई, लीलाधर निवासी खातीपुरा के खिलाफ केस दर्ज किया है। पुलिस के मुताबिक आरोपितों ने केशव नगर के नाम से बगैर अनुमति के कालोनी का विकास किया था। शिकायत के बाद निगम अफसरों ने पाया कि आरोपितों ने किसी प्रकार की विकास अनुमति नहीं ली है। इसी तरह दूसरा केस विनोद चौकसे, ठाकुर बाई, महेश सुरेश जयराम, निर्मला बाई, ममता बाई, भेरूलाल रामाजी के खिलाफ केस दर्ज किया है। पुलिस के मुताबिक आरोपितों ने प्रिंस सिटी के नाम से कालोनी काटी और उसके संबंध में किसी प्रकार की विकास अनुमति प्राप्त नहीं की। मामले में जांच की जा रही है।

प्रधान आरक्षक के बेटे को पिस्टल सहित पकड़ा

छत्रीपुरा पुलिस ने मंगलवार को प्रधान आरक्षक के बेटे को अवैध पिस्टल रखने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। उसके खिलाफ हथियार रखने का केस दर्ज किया है। टीआइ पवन सिंघल के मुताबिक आरोपित का नाम उत्कर्ष द्विवेदी है। उसके पिता हरिओम द्विवेदी लसूड़िया थाने में प्रधान आरक्षक हैं। पुलिस के मुताबिक उत्कर्ष गंगवाल बस स्टैंड के पास पिस्टल लेकर घूम रहा था। पुलिस को शक है उत्कर्ष किसी वारदात की नीयत से आया था। उधर पुलिस ने दो बदमाशों पर रासुका के तहत कार्रवाई की है। टीआइ के मुताबिक आरोपित का नाम शाहरुख पुत्र याकूब लाला निवासी लाबरिया भेरू और सागर पुत्र कालू छोले निवासी सेठीनगर है।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close