इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर को ट्रैफिक में नंबर वन बनाने में जुटी ट्रैफिक पुलिस एक नया प्रयोग करने जा रही है। शहर में बनाया गया आदर्श रोड (पलासिया से रीगल) जीरो टॉलरेंस जोन तो होगा, साथ ही यहां पर नियमों का पालन करने वाले पांच व्यक्तियों को पुलिस अपना ब्रांड एम्बेसडर बनाएगी।

एडीजी वरुण कपूर ने बताया कि आदर्श रोड पर ट्रैफिक के लिए हम एक निजी संस्था की मदद ले रहे हैं। इसके अलावा शैक्षणिक संस्थाओं की मदद भी ली जा रही है। रविवार को हमने मॉल में भी लोगों को जागरूक करने के लिए छात्रों की मदद ली थी। इस रोड पर वाहन चालकों से भी नियमों का पालन करवाया जाएगा। शुरू में कुछ दिनों तक वाहन चालकों के चालान बनाने के बजाय उन्हें समझाइश दी जाएगी।

इसके बाद यहां नो पार्किंग, रांग साइड, हेलमेट, सीट बेल्ट और मोबाइल पर बात करने वाले वाहन चालकों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। कपूर ने बताया कि लोगों को जागरूक करने के लिए हम कुछ नए प्रयोग भी करने जा रहे हैं, जिसमें नियमों का पालन करने वाले लोगों को फूल देकर स्वागत करने के साथ पिज्जा-बर्गर के कूपन दिए जाएंगे। इसके अलावा ऐसे वाहन चालकों के लिए पोहे-जलेबी उपलब्ध करवाने की भी योजना बनाई गई है।

हर माह पांच लोगों का करेंगे चुनाव

एडीजी ने बताया कि हर माह पांच ऐसे लोग चुने जाएंगे, जो नियमों का पालन करते हैं। हम इन्हें ब्रांड एम्बेसडर बनाएंगे। इनके फोटो वाले पोस्टर और होर्डिंग छपेंगे तो लोग इनके जैसा बनना चाहेंगे। इसके अलावा यह लोग भी अपने आसपास के लोगों को नियमों का पालन करने के लिए कहेंगे, जिससे हम देश में ट्रैफिक में नंबर वन हो जाएंगे।

सोशल मीडिया का भी सहारा लेगी पुलिस

अधिकारियों के मुताबिक ट्रैफिक सुधार को लेकर पुलिस सोशल मीडिया का भी सहारा लेगी, जिसमें ट्रैफिक गतिविधियों, मुहिम और आयोजनों की जानकारी फेसबुक, ट्विटर , इंस्टाग्राम के माध्यम से आम जन तक पहुंचाई जाएगी।