Indore News : इंदौर, (नईदुनिया प्रतिनिधि)। भारतीय प्रौद्याेगिकी संस्थान (आइआइटी) इंदौर का 10वां दीक्षा समारोह शनिवार को होगा। इस समारोह के मुख्य अतिथि भारत के परमाणु ऊर्जा आयोग के पूर्व अध्यक्ष डा. अनिल काकोडकर होंगे। कोरोना महामारी के कारण संस्थान पिछले दो वर्ष से आनलाइन और आफलाइन माध्यम से कार्यक्रम आयोजित कर रहा था।

वर्ष 2021 में संस्थान ने परिसर में केवल 200 विद्यार्थियों और माता-पिता को ही आमंत्रित किया था। इस बार सभी विद्यार्थियों को आमंत्रित किया गया है। इस वर्ष बीटेक के 269 विद्यार्थियों को डिग्री प्रदान की जाएगी। साथ ही एमएससी के 88, एमटेक के 64 और पीएचडी के 54 विद्यार्थियों को डिग्री दी जाएगी। प्रतिभावान विद्यार्थियों को पांच अवार्ड भी दिए जाएंगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता आइआइटी इंदौर के शासी मंडल के अध्यक्ष प्रो. दीपक बी. फाटक करेंगे। संस्थान ने इस बार बाहर से आने वाले विद्यार्थियों और अतिथियों के रहने के लिए विशेष व्यवस्था की है। कार्यक्रम की शुरुआत दोपहर 2.30 बजे से होगी। शुरुआत में निदेशक प्रो. सुहास जोशी अतिथियों का स्वागत करेंगे और भाषण देंगे। इसके बाद शासी मंडल के अध्यक्ष और मुख्य अतिथि विद्यार्थियों को संबोधित करेंगे। इसके बाद पदक और उपाधियां प्रदान की जाएंगी।

हर घर तिरंगा लगाने का संकल्प, तीन दिनी अभियान आज से

इंदौर। अखिल भारतीय राष्ट्रीय जैन श्वेतांबर फेडरेशन के 180 पदाधिकारियों ने जैन तीर्थ हिंकारगिरि पर हर घर तिरंगा लगाने का संकल्प लिया। अभियान में 13 से 15 अगस्त तक विभिन्न सामाजिक संगठनों के सदस्यों ने घर-घर जाकर तिरंगा लगाने का संकल्प लिया। राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी सुधीर सेठिया ने बताया कि इसमें सोशल ग्रुप नोबल, अरिहंत, कोहिनूर, प्राइम मैन, प्राइम मैन सुपर, प्रीमियम मैन रजिस्टर, एक्सीलेंट एवं गणधर ग्रुप ने भाग लिया। इस मौके पर संस्थापक अध्यक्ष विजय, मेहता कार्यकारी अध्यक्ष नरेंद्र मेहता, निवर्तमान अध्यक्ष विमल नाहर, स्थायी समिति अध्यक्ष शिखर बाफना, संरक्षक मनीष सुराणा, संतोष मामा मौजूद थे।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close