Indore News : इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। इंदौर को एक और उपलब्धि मिली है। उसे नागरिक प्रबंधन श्रेणी में राष्ट्रीय पर्यटन पुरस्कार मिली है। विश्व पर्यटन दिवस के उपलक्ष्य में मंगलवार को दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम में यह पुरस्कार मध्य प्रदेश की पर्यटन मंत्री उषा ठाकुर और इंदौर के महापौर पुष्यमित्र भार्गव ने ग्रहण किया। यह पुरस्कार उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने दिया।

इंदौर शहर को वर्ष 2018-19 में इंदौर शहर में पर्यटन स्थलों के आसपास सफाई, विद्युत लाइट रोशनी, सुविधाघरों के निर्माण, शहर में लगाए गए संकेतकों जैसे कार्यों के आधार पर यह पुरस्कार मिला है। गौरतलब है कि इंदौर विगत पांच वर्षों से स्वच्छ सर्वेक्षण में नंबर 1 पुरस्कार हासिल करता आ रहा है। इंदौर शहर में फिलहाल 49 पर्यटन स्थलों के आसपास के बाजारों को सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त करने की कवायद की जा रही है। इंदौर मध्य प्रदेश के साथ ही अन्य प्रदेशों के पर्यटकों को भी आकर्षित कर रहा है। यहां की सुविधाएं उन्हें बहुत पसंद आ रही है। कुछ माह में इंदौर आने वाले पर्यटकों की संख्या में भी इजाफा हुआ है।

दुकानों के बाहर कचरा फैलाने वालों पर स्पाट फाइन के निर्देश

इंदौर। निगम आयुक्त प्रतिभा पाल ने मंगलवार को कई क्षेत्रों का निरीक्षण किया। इस दौरान कई जगह दुकानों के बाहर कचरा दिखने पर उन्होंने नाराजगी जताई। निगमायुक्त ने क्षेत्र के दरोगाओं को निर्देश दिए कि जिन दुकानों के बाहर कचरा पड़ा है, उन पर स्पाट फाइन की कार्रवाई की जाए।

निगमायुक्त ने लैंटर्न चौराहा, रानी सती गेट, मालवा मिल चौराहा, पंचम की फैल, गोमा की फैल, रोशनसिंह भंडारी मार्ग, जंजीरावाला चौराहा, पलासिया, छप्पन दुकान क्षेत्र, न्यू पलासिया, वाल्मीकि कालोनी, रेसकोर्स रोड, हाई कोर्ट चौराहा, एमजी रोड, रीगल तिराहा, आरएनटी मार्ग, मधुमिलन चौराहा व अन्य क्षेत्रों में सफाई व्यवस्था का निरीक्षण किया। आयुक्त ने गोमा की फैल में रहवासियों से डोर टू डोर कचरा संग्रहण वाहन के आने, सफाई कार्य के बारे में पूछा। रहवासियों ने कहा कि नियमित कचरा संग्रहण वाहन आता है और उन्हें गीला व सूखा कचरा अलग-अलग कर दिया जाता है।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close