प्रफुल्ल चौरसिया, आशु

इंदौर, नईदुनिया, Indore News। शहर में नेताजी सुभाषचंद्र बोस की 125वीं जयंती पर कई कार्यक्रम आयोजित हुए। कहीं पर भव्य रंगोली बनाई गई तो कहीं पर रक्तदान किया गया।

स्वतंत्रता सेनानी एवं उत्तराधिकारी संयुक्त संगठन द्वारा सुबह बड़ा गणपति स्थित नेताजी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। इसके बाद स्वतंत्रता संग्राम में महती भूमिका निभाने वाले देशभक्तों के स्वजन का सम्मान किया गया। राकेश देवदत्त शास्त्री और सुधीर सेठिया ने बताया कि इस दौरान बड़ी संख्या में देशभक्त मौजूद थे। इसी तरह साधु वासवानी नगर में देशभक्तों ने पराक्रम रंगोली बनाकर नेताजी को याद किया। इस रंगोली को बनाने में निरंतर 15 घंटे का समय लगा। इसी तरह रीगल चौराहा पर बड़ी संख्या में देशभक्त एकत्र हुए और नेताजी के बलिदान का जिक्र किया। इस दौरान शिविर में रक्तदान भी किया गया। कार्यक्रम में सांसद शंकर लालवानी ने भी शिरकत की और रक्तदान किया।

नेताजी की जयंती पर विभिन्न वक्ताओं ने कहा कि एक स्वतंत्रता सेनानी के बारे में सोचें, जो एक वीर सैनिक, एक वीर योध्दा, एक महान सेनापति, कुशल राजनीतिज्ञ भी था तो सबसे पहले हमारे सामने नेताजी बोस का चेहरा ही आता है। उनके व्यक्तित्व के बारे में जितना कुछ भी कहा जाए, वो कम है। नेताजी ने भारत को अंग्रेजों की गुलामी से आजाद कराने के लिए कुछ नहीं किया। आजाद हिंद फौज के गठन से लेकर हर भारतीय को आजादी का महत्व बताने तक हर एक काम नेताजी ने किया। ऐसे व्यक्तित्व की जयंती पराक्रम दिवस के रूप में मनाना हमारे लिए गर्व की बात है।

Posted By: gajendra.nagar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags