Indore News : इंदौर ( नईदुनिया प्रतिनिधि)। मौसम विभाग द्वारा अगले 15 दिनों में इंदौर जिले में भारी वर्षा और आकाशीय बिजली गिरने की चेतावनी के कारण जिला प्रशासन सतर्क हो गया है। अतिवृष्टि और बाढ़ के हालात देखते हुए प्रशासन ने जिले में प्रमुख पिकनिक स्थलों, नदियों और निस्तार घाटों पर जाना प्रतिबंधित कर दिया है। इसके लिए प्रशासन ने दंड प्रक्रिया संहिता की धारा-144 के तहत प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किए हैं।

इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह के निर्देश पर महू एसडीएम अक्षत जैन ने इस आशय का आदेश जारी किया है। इसके तहत चोरल, चोरल नदी, चोरल बांध, पातालपानी, सीतलामाता फाल, मेहंदीकुंड, तिंछा फाल, कजलीगढ़, वाचू पाइंट, जानापाव कुटी, कालाकुंड आदि स्थानों पर अगले 15 दिनों के लिए आम जनता की आवाजाही पूरी तरह बंद की गई है। यह आदेश महू क्षेत्र के थाना महू, किशनगंज, बड़गोंदा, मानपुर, सिमरोल की सीमा में लागू रहेंगे। इसी तरह सभी तालाबों एवं नदियों में मछुआरों का आवागमन, मछली पालन एवं उन्हें पकड़ने संबंधी गतिविधियां भी 15 दिन के लिए पूरी तरह प्रतिबंधित रहेंगी। सभी निस्तार घाटों पर संचालित होने वाली गतिविधियां भी पूरी तरह बंद की गई हैं। आदेश का उल्लंघन करने पर दंड प्रक्रिया संहिता की धारा-188 के तहत कार्रवाई की जाएगी।

मौसम विभाग की चेतावनी के बाद ली बैठक - उल्लेखनीय है कि मौसम विज्ञान विभाग की चेतावनी के बाद संभागायुक्त डा. पवन शर्मा ने मंगलवार को संभाग के सभी जिलों के कलेक्टरों की वर्चुअल बैठक ली। बैठक में चर्चा हुई कि अतिवृष्टि और बाढ़ के हालात देखते हुए इस समय जल स्रोतों के पास बने पिकनिक स्थलों, तालाबों और नदियों के आसपास सावधानी रखना बेहद जरूरी है। तय हुआ कि अभी कुछ समय के लिए इन जगह पर प्रतिबंध लगाया जाए।

कालाकुंड जाने वाली हेरिटेज ट्रेन चलती रहेगी लेकिन स्टेशन से बाहर नहीं घूम सकेंगे पर्यटक

मौसम विभाग की चेतावनी, अतिवृष्टि और बाढ़ के हालात देखते हुए प्रशासन ने प्रमुख पिकनिक स्थलों पर जाने पर रोक तो लगाई है, लेकिन इससे कालाकुंड जाने वाली हेरिटेज ट्रेन को कुछ शर्तों के साथ छूट दी गई है। हेरिटेज ट्रेन कालाकुंड जाएगी, लेकिन पर्यटक केवल स्टेशन पर ही घूम सकेंगे। स्टेशन पर खड़े रहकर ही आसपास के प्राकृतिक दृश्यों को निहार सकेंगे। स्टेशन से हटकर नदी की तरफ नहीं जा सकेंगे। साथ ही कालाकुंड स्टेशन पर हेरिटेज ट्रेन के रुकने के समय में भी कमी की जाएगी।

हादसों को रोकने के लिए लगाए प्रतिबंध - कलेक्टर मनीष सिंह ने बताया कि इस संबंध में रेलवे अधिकारियों से भी बात हो चुकी है। उनकी ओर से बुधवार को एक आदेश भी जारी किया जाएगा। इस समय लगातार बारिश के कारण नदी-नालों के पत्थरों पर काई जम गई है और वह फिसलन भरे हो चुके हैं। जिन पिकनिक स्थलों पर इस तरह नदी, नाले या झरने हैं, वहां ऐसे मौसम में जाने वाले पर्यटकों के साथ कोई हादसा न हो जाए, इसको ध्यान में रखते हुए प्रतिबंध लगाए गए हैं। धूप निकलने और सामान्य स्थिति होने पर यह प्रतिबंध हटा लिए जाएंगे।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close