इंदौर । 'ऑपरेशन क्लीन इंदौर' के तहत पुलिस ने कुख्यात भूमाफिया बॉबी छाबड़ा को शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस को बॉबी छाबड़ा की तीन मामलों में तलाश थी। स्थानीय सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक हाल में पुलिस प्रशासन ने बॉबी छाबड़ा पर इनामी राशि 10 हजार से बढ़ाकर 20 हजार रूपए कर दी थी। गौरतलब है कि पुलिस जमीन पर अवैध कब्जे करने और अवैध निर्माण करने सहित तीन मामलों में लंबे समय से बॉबी की तलाश कर रही थी। प्रदेश सरकार के माफिया के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के तहत इन दिनों भूमाफिया के खिलाफ भी कार्रवाई की जा रही है। इसी अभियान के तहत बॉबी छाबड़ा के खिलाफ भी शिंकजा कसा गया है।

गौरतलब है कि इससे पहले कानूनी विवाद में उलझी आईडीए की आवासीय स्कीम-171 और मजदूर पंचायत गृह निर्माण संस्था की जमीन पर बना भूमाफिया बॉबी छाबड़ा का अवैध दफ्तर प्रशासन और नगर निगम के दल ने ध्वस्त कर दिया था। तब बॉबी के खिलाफ यह मामूली, लेकिन ऑपरेशन क्लीन के तहत पहली कार्रवाई थी। इस जमीन का प्रकरण न्यायालय में विचाराधीन है।

इसके बावजूद बॉबी ने यहां कब्जा कर कार्यालय बना लिया था। तभी से जिला प्रशासन बॉबी छाबड़ा से जुड़ी गृह निर्माण सहकारी संस्थाओं के मामलों की पड़ताल कर रहा था। बॉबी द्वारा जिन संस्थाओं में जमीन, भूखंड, सदस्यता और नक्शों की हेराफेरी की गई है, उनके दस्तावेज जुटाए जा रहे हैं।

बॉबी का मैनेजर संदीप रमानी इस दफ्तर में आकर भूखंडों की खरीदी-बिक्री करता था। आसपास के कुछ प्रॉपर्टी ब्रोकर उससे जुड़े थे। रमानी उनके साथ मिलकर भी प्रॉपर्टी का लेनदेन करता था। यह सब बॉबी के इशारे पर होता था। भू-माफिया बॉबी के कब्जे वाली जागृति गृह निर्माण सहकारी संस्था का राजगृही कॉलोनी में भी विशाल कार्यालय भवन था। पीपल्याहाना क्षेत्र स्थित इस भवन को भी प्रशासन और निगम की टीम ने ध्वस्त कर दिया। एसडीएम शाश्वत शर्मा ने बताया कि संस्था की जमीन पर अवैध कब्जा करके यह भवन बनाया गया था।

Posted By: Sandeep Chourey

fantasy cricket
fantasy cricket