Indore Suicide Case: मुकेश मंगल, इंदौर। डाक्टर जितेंद्र पिंडोरिया के बेटे यश उर्फ यशवंत की आत्महत्या में नई परतें खुलती जा रही हैं। आज इस प्रति‍न‍िधि से बातचीत में डाक्टर जितेंद्र पिंडोरिया के पिता और यशवंत के दादा डा.एमएल पिंडोरिया ने बताया कि किस तरह यशवंत ने मौत को गले लगा लिया।

उल्‍लेखनीय है कि कंपेल निवासी 17 वर्षीय यश उर्फ यशवंत ने मंगलवार दोपहर घर से 250 मीटर दूर स्थित फार्म हाउस पर गोली मारकर खुदकुशी कर ली थी। फार्म हाउस से पुलिस को चले हुए गोली के दो खोल मिले हैं। पुलिस ने उस पिस्टल को जब्त कर लिया, जिससे गोली चली थी।

इस फार्म हाउस पर यश के दादा डा.एमएल पिंडोरिया शारदा के नाम से क्लीनिक संचालित करते है। स्वजन ने ग्रामीणों से कहा कि यश की दिल का दौरा पड़ने से मौत हुई और उसका दो घंटे के भीतर दाह संस्कार भी कर दिया। स्वजन से अलग-अलग पूछताछ में पता चला यश ने गोली मारकर आत्महत्या की है। उल्‍लेखनीय है कि डाक्टर जितेंद्र टीचर लक्ष्मीप्रिया से दूसरी शादी करना चाहता था और इस बात को लेकर विवाद बताया जा रहा है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local