कपीश दुबे, इंदौर। पिछले 12 साल से अपने खिलाड़ी को भारतीय वन-डे टीम की नीली जर्सी में देखने की लालसा रख रहे मध्य प्रदेश के साढ़े आठ करोड़ प्रशंसकों के लिए बुधवार का दिन खुशी और निराशा दोनों लेकर आया। बुधवार दोपहर इंदौर के वेंकटेश अय्यर को टीम में शामिल होने की खबर मिली, लेकिन यह खुशी ज्यादा देर कायम न रही। भारतीय टीम यह मैच 31 रन से हार गई और निराशा इसलिए भी बढ़ गई क्योंकि जिस वेंकटेश को देखने के लिए प्रशंसक टीवी पर नजरें टिकाए बैठे थे, वे भी जल्दबाजी में विकेट गंवा बैठे। वेंकटेश जब बल्लेबाजी करने उतरे तो 182 रनों पर आधी भारतीय टीम पैवेलियन लौट चुकी थी। वेंकटेश की अच्छी बल्लेबाजी हार पर मरहम का काम करती, मगर वेंकटेश सिर्फ दो रन बनाकर लुंगी नगिदी का शिकार बने।

वेंकटेश को थोड़ा धैर्य रखना था : कोच कोच दिनेश शर्मा ने कहा- वेंकटेश को थोड़ा धैर्य रखना था। मैच में करीब 15 ओवर का खेल बचा था। उनपर दबाव नहीं था, मगर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बहुत बारीक निगाह रखी जाती है। वेंकटेश को फंसाने के लिए ही बाउंसर फेंकी गई थी।

वेंकटेश मेहनती हैं, अनुभव के साथ स्वयं का विकास करेंगे

बीसीसीआइ के पूर्व सचिव संजय जगदाले ने कहा कि इस सीरीज में वेंकटेश टीम में जगह पक्की कर सकते हैं क्योंकि टीम में तेज गेंदबाज हरफनमौला की जगह खाली है। वेंकटेश मेहनती हैं और अनुभव के साथ स्वयं का विकास करेंगे। भारतीय चयनकर्ता रहे जगदाले ने टीम में इंदौर के तेज गेंदबाज आवेश खान को न चुने जाने पर हैरानी जताई। उन्होंने कहा- टीम में आमतौर पर पांच गेंदबाज चुनते हैं, लेकिन इस बार छह चुने गए। फिर भी आवेश को नहीं लिया।

12 साल बाद मप्र का खिलाड़ी भारतीय वन-डे टीम में शामिल वेंकटेश से पहले आखिरी बार भारत के लिए मप्र के नमन ओझा वर्ष 2010 में खेले थे। संयोग से नमन भी इंदौर के ही हैं। वेंकटेश को गेंदबाजी का मौका तो नहीं मिला, लेकिन अपनी फील्डिंग से उन्होंने एडेन मार्करैम को आउट कर उपयोगिता साबित की।

वेंकटेश अच्छे हरफनमौला के रूप में स्वयं को स्थापित कर सकते हैं। समय के साथ उनमें परिपक्वता आएगी। मध्यक्रम में बल्लेबाजी का टीम को फायदा मिलेगा। - अमय खुरासिया (पूर्व अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर)

इससे ज्यादा खुशी की क्या बात होगी कि हमारे यहां का खिलाड़ी भारतीय वन-डे टीम में आया है। अब उनके कारण पूरे प्रदेश के खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ेगा। - नरेंद्र हिरवानी (पूर्व अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर)

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local