नवीन यादव, इंदौर Flight From Indore। कभी देश की नंबर वन उड़ान कंपनी रही जेट एयरवेज के अगले साल की पहली तिमाही में दोबारा सेवा शुरू करने की घोषणा से ट्रैवल एजेंटों में खुशी का माहौल है। उनका कहना है कि इंदौर जेट एयरवेज के घरेलू नेटवर्क का प्रमुख शहर रहा है। एयर लाइंस यहां से संचालन जरूर करेगी। बंद होने से पहले इंदौर से कंपनी 50 से अधिक उड़ानें संचालित करती थी।

करीब तीन साल पहले जेट एयरवेज के बंद होने से पहले इंदौर से उड़ानों की संख्या 98 तक हो गई थीं। मगर इसके बंद होने के बाद आंकड़ा 50 से नीचे आ गया था। ट्रैवल एजेंट एसोसिएशन आफ इंडिया के प्रदेश अध्यक्ष हेमेंद्रसिंह जादौन बताते हैं कि जेट एयरवेज उस समय की प्रमुख उड़ान कंपनी थी। इंदौर से अधिकांश रूटों पर उसके जहाज उड़ा करते थे। यह ग्राहकों को भोजन परोसने वाली एकमात्र निजी उड़ान कंपनी थी। समय पर उड़ान और कम उड़ानें निरस्त होने से यात्री इसे पसंद करते थे।

अगर यह दोबारा शुरू होगी तो काफी फायदा होगा। जादौन बताते हैं कि जेट एयरवेज बंद होने के बाद उसके अधिकांश रूटों पर अब इंडिगो उड़ान संचालित करती है। जेट के पास उस समय भी लीज पर लिए विमान ज्यादा थे। एक बाद संचालन शुरू होने के बाद कंपनी फिर से इनकी संख्या बढ़ा लेगी। कई छोटे शहरों के लिए कंपनी ने पहली बार उड़ानें शुरू की थी।

यात्रियों को होगा फायदा

ट्रैवल एजेंटों के अनुसार जेट एयरवेज का दोबारा शुरू होना यात्रियों के लिए सबसे ज्यादा फायदेमंद होगा। कंपनी पहले इंदौर से दिल्ली, मुंबई जैसे बड़े शहरों के लिए सेवा शुरू कर सकती है। अभी इस रूट पर पहले से कई कंपनियां संचालन कर रही हैं। इससे यात्रियों को कम किराए का फायदा मिलेगा। इंदौर से किसी समय दिल्ली के लिए हर दिन 18 से अधिक आने-जाने वाली उड़ानें हुआ करती थीं। पूर्व में टिकट बुक करवाने पर यात्रियों को ट्रेन के सेकंड एसी से कम किराए पर टिकट मिल जाता था।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local