Indore Weather Update: इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। रक्षाबंधन के बाद पिछले कुछ दिनों से शहर में हल्की बूंदाबांदी वह हल्की बारिश का दौर ही दिखाई दे रहा है। सोमवार शाम से शहर में वर्षा की गतिविधियों में इजाफा देखने को मिल रहा है। मंगलवार सुबह से बादल छाए रहे और हल्की बारिश का दौर जारी रहा।

मौसम विज्ञानियों के मुताबिक मंगलवार को शहर में मध्यम स्तर की वर्षा होने के आसार हैं, दिन भर रुक-रुक कर हल्की बारिश का दौर भी जारी रहेगा। बादल और बारिश के कारण सोमवार को अधिकतम तापमान में गिरावट देखने को मिली। अधिकतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री कम 25.8 दिसंबर डिग्री दर्ज किया गया। वहीं न्यूनतम तापमान 22.3 डिग्री दर्ज किया गया जो कि सामान्य था। इंदौर में इस मानसून सीजन में अब तक 815.6 मिली मीटर वर्षा हो चुकी हैं।

मौसम विज्ञानियों के मुताबिक मध्य प्रदेश के ऊपर अतिनिम्न दाब क्षेत्र जबलपुर 120 किलोमीटर पूर्व में सक्रिय है। इसके अलावा दक्षिणी पाकिस्तान में निम्न दाब क्षेत्र अब भी सक्रिय है। इसके अलावा मानसून ट्रफ लाइन जैसलमेर, गुना, सागर से होते हुए बंगाल की खाड़ी तक जा रही है । इसके अलावा अफगानिस्तान के आसपास मध्य क्षोभमंडल में पछुआ पवनों के बीच एक पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है। इस वजह से इंदौर सहित मध्य प्रदेश में अभी अच्छी वर्षा हो रही है।

मौसम विभाग द्वारा मंगलवार दोपहर तक इंदौर, ग्वालियर, झाबुआ, मंदसौर, उज्जैन, नीमच, शिवपुरी, खंडवा, बड़वानी, धार जिलों में मध्यम स्तर की वर्षा होने की संभावना जताई गई है। वहीं भोपाल, सीहोर, आगर, देवास हरदा, गुना ,शाजापुर और अशोकनगर में भारी वर्षा होने की संभावना जताई गई है। इसके अलावा उत्तरी नर्मदापुरम, रायसेन, राजगढ़ और विदिशा में अति भारी वर्षा की चेतावनी दी गई है।

पर्यटन स्थलों पर बढ़ने लगी भीड़

अगस्त में बरसात अच्छी होने से पर्यटकों स्थल पर भीड़ बढ़ने लगी है। इंदौर के करीब तिंछाफाल, चोरल, कजलीगढ़, पातालपानी, कालाकुंड सहित अन्य स्थलों पर पर्यटक पहुंचने लगे हैं। तिंछाफाल और पातालपानी में पानी का बहाव अधिक है। इन दिनों वहां का झलना पर्यटकों को अपनी और आकर्षित करने में लगा है। वनक्षेत्र से लगे इन पर्यटन स्थलों पर वन विभाग ने सख्ती बढ़ा दी है। लोगों को झलने के पास जाने से माना किया जा रहा है।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close