इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। यदि कुछ काम करने का हौसला हो तो कोई भी चुनौती मुश्किल नहीं होती। इंदौर के पैरा तैराक सत्येंद्र सिंह के शरीर में कमर से नीचे का हिस्सा काम नहीं करता। मगर इसके बावजूद उन्होंने अरब सागर में धरमतर से गेटवे ऑफ इंडिया (मुंबई) तक 36 किमी की दूरी तैरकर पार करते हुए रिकार्ड बनाया। उन्होंने यह दूरी 10 घंटे और तीन मिनट में पूरी की।

इंदौर में वाणिज्यकर विभाग में पदस्थ सत्येंद्र ने बताया कि हमारी रिले टीम ने रात को 1:23 बजे से तैरना शुरू किया था। टीम का नेतृत्व मैं कर रहा था। महाराष्ट्र तैराकी संघ ने हमें प्रमाण पत्र दिया है। यह पहली रिले टीम है जिसने इस चैनल को तैरकर पार किया है। टीम में मेरे अलावा बंगाल के पैरा तैराक रिमो शाह भी थे। दो अन्य सामान्य तैराक टीम में थे, जिसमें असम के एल्वेस हजारिका और महाराष्ट्र पुलिस के गणेश शामिल हैं।

इसलिए रात को की तैराकी : सत्येंद्र ने बताया कि रात को तैराकी इसलिए करते हैं क्योंकि पानी शांत रहता है और मछलियों का खतरा कम होता है। हालांकि मछुआरों के जाल का खतरा रहता है। जाल में फंसने से तैराक डूब सकते हैं। सुरक्षा के लिए एक बोट आगे चलती है।

जीत चुके हैं राष्ट्रीय साहसिक पुरस्कार : सत्येंद्र को वर्ष 2020 में तेनजिंग नोर्गे राष्ट्रीय साहसिक अवार्ड मिला था। वे यह पुरस्कार पाने वाले देश के पहले पैरा तैराक हैं। मूलत: भिंड के रहने वाले सत्येंद्र ने ग्वालियर में वीरेंद्र कुमार डबास के मार्गदर्शन में तैराकी सीखी।

उपलब्धियां

-मई 2017 में कैरेबियन सागर में 35 किमी अकेले तैराकी की थी। यह दूरी पांच घंटे 42 मिनट में तय की थी।

-जून 2018 में 36 किमी लंबा इंग्लिश चैनल पार किया। यह लंदन से फ्रांस तक है। यह दूरी 12 घंटे 24 मिनट में पूरी की थी।

-अगस्त 2019 में 36 किमी के कैट्रीना चैनल को 11 घंटे में पार किया था।

-सात राष्ट्रीय स्पर्धाओं में 24 पदक जीते हैं। तीन अंतरराष्ट्रीय स्पर्धाओं में चार पदक हैं।

मुख्यमंत्री ने दी बधाई

https://twitter.com/ChouhanShivraj/status/1463848330862084097?ref_src=twsrc%5Etfw

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दिव्यांग तैराक सत्येंद्र को उपलब्धि पर बधाई देते हुए ट्विट किया। उन्होंने लिखा कि आपने अपनी हिम्मत, दृढ़निश्चय और कड़ी मेहनत से यह स्थान पाया है। आपकी सफलताओं ने प्रदेश को भी गौरवान्वित किया है। आप ऐसे ही साहसिक अभियानों से अपना देश और प्रदेश को रोशन करते रहें। आपको भविष्य के लिए शुभाषीश एवं शुभकामनाएं।

Posted By: gajendra.nagar

NaiDunia Local
NaiDunia Local