- स्टार्टअप से दुनियाभर के 25 करोड़ से ज्यादा उपभोक्ता और 1.8 करोड़ विक्रेता जुड़े हुए हैं

- ई- कामर्स पोर्टल, एप और प्रचार के सभी आधुनिक सुविधाएं और सलाह निश्शुल्क देने के साथ फंडिंग भी करेगा

Startup in Indore गजेंद्र विश्वकर्मा, इंदौर। देश का सबसे स्वच्छ शहर इंदौर अब स्टार्टअप में भी नंबर वन बनने की दिशा में आगे बढ़ रहा है। शहर में 700 से ज्यादा स्टार्टअप काम कर रहे हैं। इसमें 40 फीसद महिलाओं द्वारा संचालित हैं। इन्हें गति देने के लिए शहर का एआइ ट्रिलियन नाम का स्टार्टअप आगे आया है। स्टार्टअप शहर की महिला उद्यमियों को करीब 7.7 करोड़ रुपये की फंडिंग देगा। महिलाओं को ई-कामर्स प्लेटफार्म से जोड़ेगा और उन्हें अपने उत्पाद बेचने के लिए जरूरी सलाह निश्शुल्क देगा। स्टार्टअप 25 जून को महिला उद्यमियों के साथ इंदौर में बैठक करने जा रहा है। इसमें इंदौर की वे महिला उद्यमी जो घर, दुकान या कारखानों में विभिन्ना तरह के उत्पाद तैयार करती हैं, उन्हें वैश्विक ई- कामर्स प्लेटफार्म से जोड़ा जाएगा। इसमें ब्रांड मार्केटिंग, ट्रेनिंग, तकनीकी की सभी सुविधाएं शामिल हैं।

एआइ ट्रिलियन के फाउंडर मनोज धनोतिया का कहना है हम साफ्टवेयर एज ए सर्विस (एसएएएस) के क्षेत्र में काम कर रहे हैं। अमेरिका, ब्रिटेन, कनाडा, आस्ट्रेलिया और भारत सहित कई देशों की कंपनियां पहले से हमारी सेवाओं का उपयोग कर रही हैं। 2020 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जब आत्मनिर्भर भारत की घोषणा की थी तब से हमने महिलाओं के स्टार्टअप को गति देने की रणनीति पर काम करना शुरू कर दिया था। हम दूसरे स्टार्टअप की मदद करना चाहते हैं।

पहले यहां की महिला उद्यमियों को वैश्विक बाजार तक तकनीकी के माध्यम से ले जाया जा रहा है। हमारे स्टार्टअप के साथ 25 करोड़ से ज्यादा सत्यापित उपभोक्ता हंै। इसमें 1.8 लाख से ज्यादा विक्रेता भी जुड़े हुए हैं। ऐसे में इन उद्यमियों के उत्पादों को बड़ा बाजार उपलब्ध हो सकेगा। हम पांच हजार से ज्यादा महिलाओं को निश्शुल्क प्लेटफार्म उपलब्ध कराएंगे।

उद्यमियों का डिजिटल तकनीक से जुड़ना इसलिए जरूरी

ई-कामर्स व्यवसाय में मार्केटिंग का खर्च बहुत ज्यादा रहता है और कई बार भरपूर पैसा खर्च करने के बाद भी ठीक नतीजे नहीं मिलते। गूगल और फेसबुक जैसे सभी बड़े प्लेटफार्म व्यवसाय का प्रचार करने के लिए शुल्क लेते हैं। अमेजन और अन्य सफल ई-कामर्स कंपनियां रीमार्केटिंग, आइडल कार्ट मार्केटिंग, कस्टमर रिटेंशन, एंगेजमेंट और कई अत्याधुनिक तकनीक का इस्तेमाल करती हैं। एआइ ट्रिलियन बिना किसी शुल्क के यह सभी सुविधाएं महिला उद्यमियों को देगा।

ऐसे होगी शुरुआत

तकनीकी सुविधाओं का लाभ लेने के लिए स्टार्टअप ने एक कार्यक्रम तैयार किया है। इसकी जानकारी 25 जून को महिला उद्यमियों के साथ बैठक में दी जाएगी। इसके तहत इंदौर की महिला उद्यमियों का ग्रुप बनाया जाएगा। इसमें ई-कामर्स इंडस्ट्री के नेतृत्वकर्ता उन्हें अपना व्यवसाय आगे बढ़ाने का प्रशिक्षण देंगे। इसमें यूके, यूएस, आस्ट्रेलिया, भारत सहित अन्य देशों के विशेषज्ञ शामिल होंगे। महिलाओं का नेटवर्क बनाया जाएगा, जहां वे आपस में अपने कारोबार से जुड़ी चर्चा भी कर सकेंगी।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close