JEE Main 2022 Session 2 Result : इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) द्वारा जारी जाइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन (जेईई) मेन के दूसरे चरण के परिणाम सोमवार को जारी हुए। शहर के सम्यक जैन को आल इंडिया 88 रैंक प्राप्त हुई। शहर के आकर्ष गुप्ता को 102, महाजन अथर्व को 250 रैंक और अथर्व आनंत को 277 रैंक प्राप्त हुई। गर्ल्स श्रेणी में शहर की सिया गुप्ता को 1099 रैंक मिली है। यह सभी विद्यार्थी पहले चरण की जेईई मेन परीक्षा भी दे चुके हैं।

जेईई पहले चरण के परिणाम में सम्यक प्रदेश टापर थे। बेहतर रैंक के आधार पर अब करीब 2.5 लाख विद्यार्थियों को जेईई एडवांस में शामिल होने का मौका मिलेगा। एडवांस के लिए सोमवार शाम 4 बजे से आनलाइन आवेदन शुरू हो चुके हैं।

जेईई एडवांस में पंजीयन कराने की अंतिम तिथि 11 अगस्त है। परीक्षा दो शिफ्ट में 28 अगस्त को होगी। सुबह 9 बजे से दोपहर 12 बजे और दोपहर 2.30 से 4.30 बजे तक परीक्षा आयोजित की जाएगी।परिणाम जारी होने से प्रदेश के इंजीनियरिंग कालेजों में प्रवेश के लिए काउंसलिंग की शुरुआत हो सकेगी। एनटीए द्वारा सभी राज्यों को मेरिट लिस्ट दी जाएगी। इसके आधार पर पर राज्य अपने स्तर पर प्रवेश प्रक्रिया कराएंगे।

आइआइटी मुंबई से कंप्यूटर साइंस से बीटेक करना चाहते हैं

सम्यक ने बताया कि वे दो वर्ष से परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं और इस बीच कोरोना महामारी का भी सामना करना पड़ा। इससे आफलाइन कक्षाओं में पढ़ने का नहीं मिला। आनलाइन माध्यम से शिक्षकों की सहायता लेकर तैयारी की। सम्यक का कहना है कि आइआइटी में पहुंचने का जेईई मेन पहला पायदान है। अब जेईई एडवांस की तैयारी पर पूरा ध्यान दे रहा हूं। अगर एडवांस में अच्छे पर्सेंटाइल प्राप्त होते हैं तो आइआइटी मुंबई से कंप्यूटर साइंस ब्रांच से बीटेक करना चाहता हूं। सम्यक ने तैयारी के दौरान इंटरनेट मीडिया से पूरी तरह दूरी बनाकर रखी। सम्यक की माता रीतू जैन ग्रहिणी हैं और पिता मुकेश कुमार जैन आरआरकैट में इंजीनियर हैं। सम्यक के बड़े भाई अर्पित जैन भी आइआइटी मद्रास से बीटेक कर चुके हैं।

तैयारी बेहतर हो तो चिंता नहीं करनी चाहिए

आकर्ष का कहना है कि दोनों जेईई मेन में अच्छे पर्सेंटाइल प्राप्त हुए हैं। अब एडवांस के लिए दोगुनी क्षमता से तैयारी कर रहे हैं। जो प्रश्न हल नहीं हो पा रहे हैं उसकी बार-बार प्रेक्टिस कर रहा हूं। मैंने दोनों जेईई खुद को शांत रखकर परीक्षा दी और यह तय नहीं किया था कि अच्छे पर्सेंटाइल ही लाना है। मेरा मानना है कि तैयारी अगर मजबूत हो तो चिंता नहीं करना चाहिए। उनका कहना है कि दादा-दादी और परिवार के अन्य सदस्यों ने मुझे तैयारी करने का बेहतर माहौल दिया। एडवांस परीक्षा में अच्छे पर्सेंटाइल अगर आते हैं तो आइआइटी मुंबई से कंप्यूटर साइंस में इंजीनियरिंग करना चाहता हूं। आकर्ष की माता आरती गुप्ता गृहणी है और पिता अमित गुप्ता डाक्टर है।

दूसरे चरण में परिणाम में सुधार हुआ

सिया गुप्ता ने कहा कि आइआइटी मुंबई या आइआइटी मद्रास से शिक्षा प्राप्त करने का सपना है। जेईई मेन के पहले चरण में 99.82 पर्सेंटाइल प्राप्त हुए थे। दूसरे चरण में परिणाम थोड़े बेहतर हुए। इसमें 99.88 पर्सेंटाइल प्राप्त हुए। आल इंडिया रैंक 1099 है, लेकिन आइआइटी में जाने के लिए जेईई एडवांस पर सबकुछ निर्भर है। इसके लिए रोजाना सुबह 7 बजे से रात 10 बजे तक तैयारी कर रही हूं। सिया के पिता मुकेश गुप्ता बिजनेसमैन है और माता अमिता गुप्ता गृहणी है।

इन्हें मिली यह रैंक

- सम्यक जैन 88

- आकर्ष गुप्ता 102

- महाजन अथर्व निलेश 250

- अथर्व अनंत बेन्दाले 277

- बुरहानुद्दीन मर्चेंट 283

- सार्थक गंगवाल 375

- प्रतीक मौर्य 458

- आरूष जैन 609

- तनिष्क माहेश्वरी 824

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close