इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। पूर्व मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ ने बुधवार को इंदौर एयरपोर्ट पर स्थानीय कांग्रेस नेताओं के साथ अनौपचारिक बैठक की। झाबुआ रवाना होने के पहले इंदौर एयरपोर्ट के लाउंज में ही उन्होंने यह बैठक कर ली। इसमें चार कांग्रेस विधायकों के साथ जिला और शहर अध्यक्ष भी शामिल हुए। स्थानीय नेताओं ने स्थानीय स्तर पर कोरोना के गंभीर होते हालातों के बीच आंकड़े छुपाने व अव्यवस्थाओं की शिकायत की। इस पर नाथ ने कांग्रेस नेताओं से कहा, यह समय धरना-प्रदर्शन का नहीं है। जितना हो सके अपने स्तर पर लोगों की मदद कीजिए। नाथ के साथ चर्चा में पूर्व मंत्री सज्जनसिंह वर्मा, जीतू पटवारी, विधायक संजय शुक्ला, विशाल पटेल, जिला अध्यक्ष सदाशिव यादव व शहर अध्यक्ष विनय बाकलीवाल शामिल थे। जिलाध्यक्ष यादव ने कहा कोरोना के मामले में इंदौर शहर के मुकाबले गांवों की स्थिति और बदतर है।

महू तहसील में बीते मार्च से इस मार्च तक संक्रमण के जितने मामले आए थे, उससे ज्यादा सिर्फ अप्रैल 2021 में आ चुके हैं। यह भी असल आंकड़ा नहीं है, शासन मौतों को भी छुपा रहा है। ग्राम पंचायतों में कहने के लिए कोविड केयर सेंटर बनाए गए, लेकिन उनमें चिकित्सा तो दूर पंखे तक नहीं लगे हैं। परेशान ग्रामीण घरों में ही तड़प रहे हैं। शहर के नेताओं ने भी आक्सीजन, बिस्तरों के साथ रेमडेसीविर इंजेक्शन की कमी का मामला उठाते हुए सरकार को घेरने की बात कही। तब नाथ ने कहा, अभी लोगों की मदद करें। महामारी में धरना-प्रदर्शन नहीं करना है। अव्यवस्थाओं को खुलासा अपने स्तर पर कर, लोगों को चौकन्ना करते रहें।

मंत्री के बेटे पर आरोप

एयरपोर्ट लाउंज में कांग्रेस नेताओं ने नाथ से कहा, प्रशासन रेमडेसीविर इंजेक्शन जरुरतमंद मरीजों की बजाय भाजपा विधायकों और नेताओं को दे रहा है। राजनीतिक श्रेय के लिए वे उसे अपने अनुसार बांटते हैं। कुछ लोग इसी इंजेक्शन की कालाबाजारी कर रहे हैं। लाउंज से बाहर आकर विधायक शुक्ला ने पत्रकारों के सामने कहा मंत्री तुलसी सिलावट के पुत्र चिंटू इस इंजेक्शन का कालाबाजारी करवा रहे हैं।

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local