इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। पंचकुइया पुल से रामचंद्र नगर के बीच बिछाई गई सीवरेज लाइन और चैंबरों के क्षतिग्रस्त हिस्सों को नगर निगम ठेकेेदार के खर्च से ही ठीक करवाएगा। करीब तीन महीने पहले नाला टेपिंग के लिए निगम ने वहां ड्रेनेज लाइन डाली थी। रहवासियों ने बताया कि पिछले दिनों हुई बारिश के कारण चार-पांच जगह चैंबर और लाइन धंस गई है। निगम ने फिलहाल गड्ढों में गिट्टी का भराव कर दिया है।

इस संबंध में निगम ड्रेनेज विभाग के कार्यपालन यंत्री सुनील गुप्ता ने बताया कि जहां खोदाई होती है, वहां बारिश में मिट्टी में सेटलमेंट होना सामान्य बात है। पंचकुइया पुल से रामचंद्र नगर के बीच भी यही हुआ है। करीब 700 मीटर लंबे हिस्से में 35 लाख रुपये की लागत से बिछाई गई सीवरेज लाइन बिछाई गई थी। पूरे हिस्से की लाइन या चैंबर नहीं धंसे हैं। जहां-जहां बारिश से नुकसान हुआ है, वहां होने वाले सुधार कार्य का खर्च संबंधित ठेकेदार वहन करेगा। संभव है कि कुछ और जगह ऐसी शिकायतें आएं। रामचंद्र नगर नाले के आउटफाल बंद करने के लिए लाइन बिछाना जरूरी था। नईदुनिया ने शुक्रवार के अंक में बताया था कि लापरवाहीपूर्वक किए गए कार्य के कारण उक्त सड़क की लाइन और चैंबर धंस गए हैं, जिससे लोगों के लिए खतरा बढ़ गया है।

Posted By: gajendra.nagar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags