इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। LockDown in Indore बुधवार को स्वास्थ्यकर्मियों पर पथराव के चलते बदनाम हुए टाटपट्टी बाखल में गुरुवार को भारी सुरक्षा के बीच स्वास्थ्य विभाग की टीम फिर से पहुंची। इससे पहले ही क्षेत्र में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया था। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने क्षेत्र के तमाम घरों का सर्वे किया। ऐसे लोगों की पहचान की गई जो कोरोना संक्रमित मरीजों के संपर्क में आए थे।

स्वास्थ्यकर्मियों ने होम क्वारंटाइन के लाल स्टीकर चिपकाए

ऐसे घरों के बाहर स्वास्थ्यकर्मियों द्वारा होम क्वारंटाइन के लाल स्टीकर चिपकाए गए। बियाबानी मेन रोड से टाटपट्टी बाखल की ओर जाने वाली दो गलियों के साथ प्रेमकुमारी देवी अस्पताल के पीछे की सड़क भी बैरिकेड्स लगाकर बंद कर दी गई है। सभी गलियों की एंट्री पर पुलिस का पहरा लगा दिया गया है।

बैरिकेडिंग कर टाटपट्टी बाखल की ओर जाने वाले रास्ते बंद कर दिए

सिलावटपुरा की ओर से भी पुलिस ने बैरिकेडिंग कर टाटपट्टी बाखल की ओर जाने वाले रास्ते बंद कर दिए हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने क्षेत्र में 70 से ज्यादा घरों का सर्वे कर सभी घरों में दवा का वितरण भी किया। लोगों को घरों में रहने की हिदायत भी गई।

अराजक तत्वों की गिरफ्तारी का असर भी नजर आया

इधर, बुधवार की घटना के बाद क्षेत्र के अराजक तत्वों की गिरफ्तारी का असर भी नजर आया। क्षेत्र के लोगों के मुताबिक कुछ युवक बुधवार शाम के बाद क्षेत्र में नजर नहीं आ रहे हैं। आशंका है कि वे क्षेत्र छोड़कर कहीं चले गए हैं ताकि प्रशासन की कार्रवाई से बच सकें। गुरुवार दोपहर तीन बजे के लगभग पुलिस बल की संख्या दोगुनी कर दी गई।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना