इंदौर/भोपाल। मध्यप्रदेश की 8 सीटों पर निर्धारित समय शाम 6 बजे तक 65 प्रतिशत से अधिक मतदान हुआ है। हालांकि कुछ मतदान केंद्रों पर अभी भी मतदाताओं की कतार लगी हुई है इस आधार पर आंकड़ों में बदलाव की पूरी संभावना है। अंतिम आंकड़ा देर रात तक ही मिल सकेगा।

देवास में 66.26 प्रतिशत, उज्जैन में 60.72 प्रतिशत, मंदसौर में 62.52 प्रतिशत, रतलाम में 60.50 प्रतिशत, धार में 60.49 प्रतिशत, इंदौर में 54.55 प्रतिशत, खरगोन में 59.95 प्रतिशत और खंडवा में 58.56 प्रतिशत से अधिक मतदान हुआ है। इस दौरान एक करोड़ से अधिक मतदाताओं ने 82 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला किया।

इन लोकसभा क्षेत्र के 16 जिलों में 18 हजार 411 मतदान केंद्र बनाए गए । शांतिपूर्ण चुनाव कराने के लिए 56 हजार 92 सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया। वहीं चुनाव आयोग 3700 से ज्यादा मतदान केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरों और वेबकॉस्टिंग के माध्यम से निगरानी रखी गई। आइए जानते हैं आज दिनभर मतदान के दौरान की हर पल की ताजा अपडेट -

मतदान के बाद दुनिया से ली विदाई

खरगोन। सिनखेड़ा निवासी रेहमान का मतदान के बाद निधन हो गया। रेहमान ने अपने ही गांव के मतदान केंद्र क्रमांक 69 पर करीब 12.30 बजे अपना मतदान किया। मतदान करने के बाद वे अपने परिचितों से बातचीत कर हालचाल जानते हुए एक बजे घर पहुंचे। घर पहुंचने के बाद हार्टअटैक आने पर उनका इंतकाल हो गया।

इंदौर के खजराना थाना इलाके में विवाद में के बाद कांग्रेस प्रत्याशी पंकज संघवी और भाजपा के नेता मनीष मामा को पुलिस ने थाने में बैठा लिया।

इंदौर में पुलिस और दुकानदारों के बीच विवाद

इंदौर के पालदा में पुलिस ने हाट की दुकानें हटवाईं, साप्ताहिक हाटबाजार लगाने से पुलिसकर्मी रोक रहे हैं। इस दौरान दुकानदारों और पुलिसकर्मी के बीच जमकर बहस हुई। पुलिस के एएसआई एम विश्वकर्मा ने कहा कि 6 बजे बाद भी दुकान नहीं लगा सकते। दुकानदार इसको लेकर पुलिस के सामने खड़े हो गए। बोले हम धंधा करेंगे जो करना है कर लो।

इंदौर में बड़ी ग्वालटोली पांच नंबर विधानसभा क्षेत्र में भाजपा और कांग्रेस कार्यकर्ताओं में जमकर विवाद हुआ। सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची। बताया जा रहा है कि भाजपा की टेबल से निर्वाचन की सरकारी पर्ची बांटी जा रही थी। ये घटना बूथ नंबर 290 की है। पूर्व पार्षद राधे बौरासी की शिकायत के बाद सत्यनारायण पटेल, अमन बजाज के साथ कांग्रेस कार्यकर्ता वहां पहुंची। प्रशासन ने सामग्री जब्त कर पंचनामा बना लिया है।

खंडवा : पुरनी में जमकर विवाद, एक घायल

मूंदी के पुरनी पुर्नवास मे रविवार सुबह दो पक्षो के बीच राजनैतिक विवाद हो गया। मारपीट की घटना मे कांग्रेस कार्यकर्ता गजराजसिह उर्फ गजेन्द्र पिता मदनसिह तोमर(28) घायल हो गया। जिसको मूंदी के सामुदायिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र में भर्ती कराया गया। गजेन्द्र का आरोप है कि मैं कांग्रेस के पक्ष में काम कर रहा था। इस कारण दुर्भावना रखते हुए आरोपियों ने मेरे पर सामूहिक हमला किया चोट पहुंचाई और जान से मारने की धमकी दी। गजेंद्र की रिपोर्ट पर आरोपी रामपालसिह सौदानसिह कोरकू, विश्वजीतसिह पिता टीकमसिह राजपूत, अजय पिता नादानसिह, पंकजसिह पिता विक्रमसिह राजपूत सभी निवासी पुरनी पुर्नवास पर केस मूंदी पुलिस ने दर्ज किया है। वहीं फरियादी रामपालसिह पिता सौदानसिह की शिकायत पर गजराज उर्फ गजेन्द्रसिह के खिलाफ केस दर्ज किया गया।

सैलाना में मतदान की लाइन में खड़ी महिला की मौत

मध्यप्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वीएल कांताराव ने दोपहर में प्रेस कान्फ्रेंस के दौरान बताया कि 8 संसदीय क्षेत्रों में 18,411 मतदान केंद्रों में मतदान अभी जारी है। करीब 60 प्रतिशत मतदान हो चुका है, मतगणना शुरू होने के बाद 70 मतदान केंद्रों की ईवीएम खराब हो गई, जिन्हें बदलकर मतदान कराया गया। इसमें 22 बैलट यूनिट, 19 कंट्रोल यूनिट और 70 वीवी पैट हैं अभी तक 60.78% पुरुष और 57.92% महिलाओं ने मतदान किया। मतदान के दौरान रतलाम संसदीय क्षेत्र की सैलाना विधानसभा की चंदोरा निवासी गेंदा बाई 58 वर्षीय की मतदान के लिए लाइन में खड़े रहने के दौरान हार्ट अटैक से मृत्यु हो गई।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने भरोसा जताया कि जिस तरीके से मतदान चल रहा है उससे यह 77 फीसदी तक पहुंच सकता है। 2018 के विधानसभा चुनाव में भी इन संसदीय क्षेत्रों में 77 फीसदी के करीब मतदान हुआ था। मध्य प्रदेश में लोकसभा चुनाव के दौरान जिस तरह मतदान में वृद्धि हुई है उससे यह संभावना जताई जा रही है कि 2014 के मुकाबले 2019 के चुनाव में जो मतदान प्रतिशत बढ़ेगा वह देश में सर्वाधिक हो सकता है। मंदसौर संसदीय क्षेत्र के विधानसभा सुवासरा के गांव पिछला में मतदाताओं ने बहिष्कार किया यहां सिर्फ 4 वोट पड़े हैं यानी सिर्फ मतदान कर्मियों ने ही यहां पर मतदान किया है।

इंदौर में रानी सती गेट स्थित मतदान केंद्र के एक बूथ पर 56 तो दूसरे पर 70 प्रतिशत मतदान हुआ। यहां अभी भी लोग वोट डालने आ रहे हैं। धूप कम होने के बाद बढ़ी संख्या बढ़ने लगी है।

पार्टी का झंडा हटवाने पर विधायक मेंदोला की पुलिस से हुई बहस

इंदौर में दो नंबर विधानसभा में बूथ से दूर सड़क पर लगी भाजपा की टेबल से झंडे हटवाने पर विधायक रमेश मेंदोला व पुलिस के बीच बहस हुई। भाजपा की तरफ से लगे काउंटर पर अधिक झंडे लगे होने पर पुलिसकर्मियों ने इन्हें हटाने निर्देश दिया। इस बात पर विधायक व पुलिस के बीच बहस हुई।

पोलिंग बुथ पर लंबी कतार, लोग नाराज

नंदा नगर के श्रमिक विद्यापीठ मतदान केंद्र पर अधिक भीड़ होने से दोपहर तक कतार लगी। यहां पर दो बूथ को मिलाकर एक बूथ बनाया गया है। जिसके कारण मतदाताओं की संख्या भी बढ़ गई है। लोगों को धूप से बचाने भी पर्याप्त इंतजाम नहीं थे।

पुलिस जवानों ने भी डाले वोट


पोलिंग बूथों पर ड्यूटी दे रहे कई जवानों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। कई पुलिसकर्मियों ने भ्रमण के दौरान ही अपने क्षेत्र में जाकर वोट डाला।

इंदौर की सिलिकॉन सिटी में मतदाताओं की लंबी कतार लगी रही।

शादी के बाद वोट डालने पहुंचे दूल्हा-दुल्हन

महावर नगर के बूथ नंबर 203 पर शादी के बाद दुल्हन जगन व हेमा सोनी भी मतदान करने के लिए पहुंचे।

युवती हुई बेहोश

गर्मी के कारण संपत हिल के मतदान केंद्र क्रमांक 269 पर वोट डालने आई युवती मानसी बेहोश हो गई। विधानसभा क्रमांक 5 के मुस्लिम बहुल इलाकों में मतदान धीमा होने के कारण दोनों पार्टियों के कार्यकर्ता लोगों को घर-घर से निकालने में जुटे ताकि मतदान का प्रतिशत बढ़ सके और ज्यादा मतदान हो।

इंदौर में छोटी ग्वालटोली क्षेत्र में सैकड़ों मतदाता पर्चियों को कांग्रेसियों ने पकड़ा, मौके पर भाजपा कार्यकर्ताओं से पकड़ाई पर्चियां, इस बारे में प्रशासन को शिकायत दर्ज करवाई गई।

इंदौर में 94 साल की बुधनी बाई बेटे रामदेव कौशल के साथ्‍वा वोट डालने के लिए स्कीम नंबर 54 में केके कॉलेज में वोट डालने पहुंची। वहीं 86 वर्ष के बीजी जोशी ने भी मतदान किया, टैक्स कंसल्टेंट जोशी 1952 से मतदान कर रहे हैं।

धार के धरमपुरी का भावसार परिवार एक ही जैसी ड्रेस पहनकर एक साथ मतदान करने पहुंचा। इन्होंने दूसरों से मतदान करने की भी अपील की।

सेंधवा में पहली बार वोट देने पहुंची युवा मतदाताओं में भारी उत्साह नजर आया।

सांवेर विधानसभा के कुमहेड़ी मतदान केंद्र पर दोपहर में सन्नाटा पसर गया। भीषण गर्मी की वजह से अब मतदाता वोट देने आने में कतरा रहे हैं।

मध्यप्रदेश भाजपा की उपाध्यक्ष एवं पूर्व विधायक रंजना बघेल ने धार के मनावर में मतदान किया।

इंदौर में डॉ एमसी नाहटा 89 वर्ष सपरिवार मतदान करने पहुंचे। वे पिछले 18 महीने से बिस्तर पर स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं। प्रख्यात नेत्र रोग चिकित्सक को स्वास्थ्य की तकलीफ भी मताधिकार का उपयोग करने से रोक नहीं सकी।

मतदान के दौरान कर्मचारी बेहोश, डॉक्टर ने कार्डियक मसाज से बचाई जान


इंदौर में तेज गर्मी में कई मतदान केंद्र ऐसे हैं जहा सिर्फ पंखों की सुविधा है। विधानसभा क्रमांक 207/4 के बूथ क्रमांक पर एक मतदानकर्मी शशिकुमार गौशर हाई बीपी की वजह से बेहोश हो गए। चुनाव ड्यूटी पर मौजूद व कर्मचारी राज्य बीमा क्षय चिकित्सालय में पदस्थ डॉ. मीना सिसोदिया ने तुरंत कार्डियक मसाज किया व दवाई दी। जिससे मरीज होश में आ गए। उनका ब्लड प्रेशर 260/160 तक पहुंच गया था। जिसे डॉक्टर ने समय रहते नियंत्रित किया व तुरन्त 108 पर खबर करके एम्बुलेंस बुलाकर जिला चिकित्सालय भेजा।

दिल्ली में रहने वाला जाट परिवार मतदान करने के लिए अपने गृहग्राम धार जिले के टवलाय पहुंचा।

न्यायाधीश पद पर हुआ है चयन, पत्नी के साथ वोट डालने पहुंचे

शाजापुर के कालापीपल के मतदान केंद्र क्रमांक 90 पर हाल ही में न्यायाधीश पद पर चयनित हुए राहुल सोनी ने मतदान के प्रति अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते हुए अपनी पत्नी अंजलि सोनी के साथ कालापीपल में आकर मतदान किया।

धार जिले के कुक्षी में कैबिनेट मंत्री सुरेंद्र सिंह हनी बघेल ने अपने गृहग्राम तलावड़ी में मतदान किया।

छोटे-छोटे कमरों में बनाया मतदान केंद्र पोलिंग एजेंट के बैठने की भी नहीं थी जगह

इंदौर के धनवंतरि नगर स्थित मतदान केंद्र क्रमांक 44 मिनर्वा स्कूल में सुबह 9 बजे तक 10 प्रतिशत मतदान हुआ। बूथ के दोनों कमरे मात्र 10 बाय 10 के कमरे हैं। विधानसभा चुनाव के बाद पार्षद बलराम वर्मा ने जिला निर्वाचन अधिकारी को लिखित सुझाव सहित आवेदन दिया था। अधिकारी के निर्देश पर सहायक पांडे ने कम्प्यूटर में दर्ज कर अल्पाइन स्कूल के कक्ष भी आवंटित कर दिए थे। इसके बाद भी निर्देश निर्देश का पालन नहीं हुआ जिसके कारण मतदाताओं को परेशान होना पडा। इस बूथ पर 1622 मतदाता है। यहां के छोटे—छोटे कमरों में मतदान दल व पोलिंग एजेंट भी नहीं बैठ पा रहे है। 20 प्रत्याशियों के 20 एजेंट भी नहीं बैठ पा रहे। लेकिन निर्देश पर अमल नहीं हुआ। मिनर्वा स्कूल बूथ के पास बीएलओ के बैठने की कोई व्यवस्था नहीं थी। ब्रिज के नीचे कुर्सी मांग कर दोनों बीएलओ बैठीं हैं।

100 साल से अधिक उम्र के मतदाता पहुंचे वोट करने

इंदौर 5 के स्कीम 94 गुलाबबाग के बूथ 104 पर ऋचा पराशर अपने 91 वर्षीय ससुर चमनलाल पराशर को व्हील चेयर पर वोट डलवाने आई। साथ मे 85 वर्षीय सास शकुंतला भी थी। वेर तहसील के मण्डोत गांव के बूथ नंबर 69 पर 107 वर्ष अयोध्या बाई अपने बेटे और बहू के साथ पहुंची।

विक्रम अग्निहोत्री ने पैर के अंगूठे से डाला वोट

स्कीम नंबर 78 में रहने वाले विक्रम अग्निहोत्री ने बचपन में एक एक्सीडेंट में दोनों हाथ खो दिए थे। विक्रम पैरों से कार चलाने चलाने के साथ अपने कई काम कर लेते हैं। उन्होंने रविवार को स्कीम नंबर 78 के मतदान केंद्र पर वोट डाला। उनके पैरों पर स्याही लगाई गई। गौरतलब है कि विक्रम को जिला निर्वाचन कार्यालय ने चुनाव के लिए दिव्यांग आइकॉन बनाया है। राऊ के एक मतदान क्रेंद पर 50 वर्षीय विकलांग सुरेश केसिया वोट डालने पहुंचे। इस मतदान केंद्र पर व्हीलचेयर का इंतजाम नहीं था इस वजह से वो बैसाखियों के सहारे ही मतदान करने पहुंचे।

वोटर लिस्ट में नाम न होने के कारण मतदाता वोट नहीं डाल पाए

इंदौर के कसेरा बाजार स्कूल के ममतदान केंद्र क्रमांक 83 पर ईवीएम खराब होने के कारण एक घंटे तक रूका रहा मतदान। मूसाखेड़ी क्षेत्र में कई वोटर्स के नाम मतदाता सूची से गायब होने के कारण वो वोट नहीं डाल पाए।

बीएलओ के पास से पकड़ाई मतदाता पर्ची

इंदौर के राम मंदिर बड़ी ग्वालटोली वार्ड क्रमांक 48 में बीएलओ के पास से भाजपा का झंडा व भाजपा के समर्थन में दी जाने वाली सभी मतदाता पर्ची अन्य सामग्री अभी मौके पर से पकड़ाई हैं। जिसकी शिकायत कलेक्टर निर्वाचन अधिकारी को की गई है। मौके पर पूर्व विधायक सत्यनारायण पटेल द्वारा कलेक्टर को शिकायत की गई।

अमेरिका से आए पोती के भावुक पत्र को पढ़ दादी ने किया मतदान

अमेरिका में रहने वाली पोती लवी बोथरा ने दादा के निधन से व्यथित दादी को एक भावुक पत्र लिखा था। पोती के पत्र को पढ़कर दादी ने मतदान करने का फैसला लिया और परिवार के साथ वोट देने पहुंची। इस दौरान उन्होंने सवा महीने घर से नहीं निकलने वाली सामाजिक परंपरा को तोड़ते हुए राष्ट्रधर्म का निर्वहन करते हुए मतदान किया।

राजकुमारी चौहान 95 वर्ष की बुजुर्ग महिला ने उत्साह के साथ

इंदौर में मतदान केंद्र सरस्वती महिला शिक्षण सेवा संघ गंजी कंपाउंड पर मतदान किया। इस उम्र में बुजुर्ग महिला के मतदान के प्रति जोश ने साबित किया कि आज भी बुजुर्ग युवाओं से जोश में कई गुना आगे हैं।

पिता के निधन के बाद भी किया मतदान

सेंधवा शहर के सुदामा कॉलोनी निवासी वृद्ध की शनिवार शाम मौत हो गई थी पिता की मौत के बावजूद पुत्र भरत शिंदे ने पत्नी को बच्चों के सहित रविवार सुबह मतदान किया।

नीमच के जावट विकास खंड ग्राम नागथून में दूल्हा-दुल्हन बारात विदाई से पहले पोलिंग बूथ पहुंचे और मतदान किया।

इंदौर के स्कीम 114 में ग्रीन फील्ड स्कूल के बूथ 102 पर दृष्टिहीन युवाओं ने वोट डाले। यहां सामाजिक न्याय विभाग के अधिकारी भी पहुंचे।

खरगोन के कसरावद में जापान से आकर पूनम पटवारी ने अपने परिवार के साथ मतदान किया।

खंडवा में मतदान के साथ रक्तदान भी किया गया, लोग मतदान के बाद रक्तदान करने में भी बढ़चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं।

इंदौर के निगमायुक्त आशीष सिंह ने भी परिवार के साथ मतदान किया।

इंदौर में नेहरू स्टेडियम के निकट मतदान केंद्र में कलेक्टर लोकेश जाटव ने सपरिवार पहुंचकर मतदान किया।

टीवी कार्यक्रम तारक मेहता का उल्टा चश्मा में कृष्णन अय्यर का किरदार निभाने वाले तनुज महाशब्दे अपने गृहनगर देवास में वोट डालने के लिए पूरे परिवार के साथ पहुंचे। उन्होंने सभी से वोट देने की भी अपील की।

महिला वोट डालने पहुंची पता चला कोई ओर वोट डाल गया

विधानसभा केंद्र नंबर 1 के रानी पैलेस निवासी जुबैदा सिरपुर के मतदान केंद्र क्रमांक 279 पर 11.45 पर जब वोट डालने के लिए पहचान पत्र लेकर पहुंची तो उन्हें पता चला कि उनका वोट कोई ओर डाल गया है। ऐसे में उन्हें बिना मतदान किए ही लौटना पड़ा।

रतलाम लोकसभा क्षेत्र में दोनों हाथों से दिव्यांग ने वोट दिया। इस दौरान मतदान केंद्र पर मौजूद कर्मचारियों ने उनके पैर की अंगुली में वोटिंग की स्याही लगाई।

सेंधवा में ढाई फीट ऊंची 20 वर्षीय शीतल चौहान ने मतदान किया।

तीन साल से बिस्तर पर पर आज वोट देने पहुंची

खरगोन निवासी शारदा गोपाल कृष्ण अमझरे लिवर की बीमारी से पीड़ित हैं। वे तीन साल से बिस्तर पर ही लेटी रहती हैं। लेकिन मतदान को लेकर उनका उत्साह इतना ज्यादा है कि परिवार वालों से सुबह उठकर कहा कि सब काम छोड़कर सबसे पहले मुझे वोट देने ले चलो, मतदान क्रमांक 103 पर उन्होंने वोट दिया।

इंदौर के नयापुरा में वैदिक स्कूल पोलिंग बूथ पर दूल्हे गौरव यादव के साथ वोट डालने पहुंची दुल्हन सोनल यादव।

पैरालेसिस से पीड़ित संतोष सिंह ने किया मतदान

इंदौर में दो वर्ष पूर्व एक दुर्घटना में पैरालेसिस से पीड़ित एक व्यक्ति ने मतदान किया। स्कीम नंबर 74 निवासी संतोष सिंह पिता इंद्रपाल सिंह का सयाजी होटल से लौटते समय कार द्वारा टक्कर मारने से एक्सीडेंट हो गया था। इसके बाद वे पैरालेसिस के शिकार हो गए थे। आज सामाजिक न्याय विभाग के सहयोग से मुख्य चिकित्सा और स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा अस्पताल से एंबुलेंस उपलब्ध कराई गई और संतोष सिंह वोट देने पहुंचे।

देवास तहसील के ग्राम बीजेपुर की 108 वर्षीय लक्ष्मी बाई विश्वकर्मा ने मतदान किया।

परिवार के 25 सदस्यों ने एक साथ वोट डालने पहुंचे

नंदा नगर में रहने वाले सागरे परिवार के 25 सदस्यों ने सरकारी स्कूल के बूथ पर एक साथ जाकर वोट डाला। विधानसभा चुनाव में भी परिवार के सदस्य एक साथ वोट डालने पहुंचे थे और इस चुनाव में परिवार के सदस्य एक साथ पहुंचे।

95 वर्षीय बुर्जुग महिला ने किया मतदान

नगर निगम के रोड नंबर 1 के महिला केंद्र सरस्वती महिला शिक्षण सेवा संघ, गंजी कम्पाउंड पर 95 वर्षीय की राजकुमारी चौहान ने वोट किया। अग्रसेन नगर नगम में शतायु मतदाता संुदरलाल भवरला महाजन में अपनी चार पीढ़ी के साथ वोट किया।

महिला के पास मिले 59 फर्जी वोटर कार्ड, पुलिस ने पकड़ा

वार्ड नंबर 22 जिनेश्वर स्कूल की आगनवाड़ी कार्यकर्ता महिला से पकड़ाएं 59 फर्जी वोटर कार्ड। इस महिला को हीरानगर थाना पुलिस थाने लेकर गई।

इंदौर में जीबीएस से पीड़ित राहुल चौरसिया को परिजन वोट डालने के लिए कार में लेकर पहुंचे। उधर शहर के पटेल नगर में हीरूलबाई धर्मशाला बूथ पर वोट न डालने देने को लेकर किशोर कोडवानी का पीठासीन अधिकारी से विवाद हो गया। तलावली चांदा के बूथ नंबर 220, 221 और 222 पर मतदान कर्मी पानी के लिए मोहताज हो गए, रात को भी उन्हें पीने के लिए पानी नहीं मिला। नगर निगम की थी जिम्मेदारी। मतदान कर्मियों ने खुद पैसे देकर दूर से बुलवाया पानी। बाथरूम भी साफ नहीं हुए। मतदान कर्मियों ने खुद बूथ पर झाडू लगाई। इसमें नगर निगम कर्मियों की लापरवाही सामने आई है।

लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन सुबह अपने परिवार के साथ वोट डालने पहुंची। इस दौरान उनके साथ भाजपा प्रत्याशी शंकर लालवानी भी मौजूद रहे।

आलोट रतलाम विधायक मनोज चावला आलोट नगर के वार्ड नंबर 1 मतदान केंद्र 202 पर मतदान किया। चावला जब सुबह मतदान केंद्र पहुंचे तो पीठासीन अधिकारी डीएस खन्ना ने आईडी प्रूफ हेतु दस्तावेज मांगे नहीं देने पर उन्हें 10 मिनट तक मतदान नहीं करने दिया। बाद में जब उन्होंने विधान सभा आईडी प्रूफ दिखाया तब रात 7:52 पर मतदान करने दिया। जनप्रतिनिधि ही बिना आईडी प्रूफ के पहुंच गए।

Indore Lok Sabha Seat : बग्घी पर बैठकर दुल्हन वोट डालने पहुंचीं

आलोट नगर के वार्ड नंबर 4 मतदान केंद्र 201 पर पहली बार मतदान करने पहुंचे युवाओं में काफी उत्साह नजर आया। देवास-रसूलपुर वार्ड में मतदान केंद्र 145 की ईवीएम मशीन खराब होने के कारण वोटिंग कुछ देर तक रुकी रही। सेंधवा के ग्राम पाली में मतदाताओं की लंबी कतार लगी रही।

इंदौर में पूर्व मंत्री महेंद्र हार्डिया ने अपनी माताजी की उम्र 100 वर्ष से ज्यादा और परिवार के साथ अंग्रसेन चौराहे पर स्थित पोलिंग बूथ पर मतदान किया।

देवास के टोंक खुर्द मतदान केंद्र 54 में दोनों पैरों से दिव्यांग को स्ट्रेचर पर लाकर मतदान कराया गया। खरगोन लोकसभा के बड़वानी में मतदान केंद्र 222 में पिंक ड्रेस पहन कर मतदान करने पहुंचे हैं। मंदसौर जिले के शामगढ़ में मतदान क्रमांक 217 शासकीय मिडिल स्कूल में वोटिंग मशीन खराब, नई मशीन में वोटिंग शुरू की जा रही है। इधर मंदसौर में अभिनंदन नगर मेन में भाजपा नेताओं द्वारा पिछले दिनों बगीचे की बाउंड्री वाल का कार्य रुकवा जाने के विरोध में क्षेत्रीय मतदाताओं ने मतदान का बहिष्कार का निर्णय लिया है। देवास में आंतों का ऑपरेशन कराने के बाद भी राजीव नगर निवासी मोनू गांठे देवास सिटी हॉस्पिटल से एंबुलेंस द्वारा अपने मताधिकार का उपयोग किया।

इंदौर में कैलाश विजयवर्गीय ने परिवार के साथ वोट दिया, इस दौरान विधायक रमेश मेंदोला और विधायक आकाश विजयवर्गीय भी उनके साथ मौजूद रहे। सुदर्शन गुप्ता ने महेश नगर मतदान केंद्र पर लाइन में लगकर अपने परिवार के साथ मतदान किया।

खंडवा में मोघट थाना स्थित गीते परिवार के सभी सदस्यों ने एक साथ मतदान केंद्र पर जाकर मतदान किया। गौरतलब है कि परिवार के अधिकतर सदस्य खंडवा से बाहर रहते हैं, लेकिन मतदान के लिए विशेषतौर पर अपने गृहनगर पहुंचे। लोकतंत्र के प्रति इस जिम्मेदारी को देखते हुए स्थानीय लोग भी उनकी तारीफ कर रहे हैं।

खंडवा में जयंती साकल्ले ने परिवार सहित वोट डाला, उन्होंने वोट डालने के लिए खासतौर पर अपनी बेटी को ससुराल से बुलाया। मतदान के बाद स्याही लगी अंगुली दिखाते समय नन्हा पोता अन्वय भी नकल करते हुए अंगुली दिखाते हुए।

खंडवा में नवचंडी मंदिर के पास साधना डोंगरे ने अपनी बेटी आकृति के साथ मतदान किया। उन्होंने भी बेटी को विशेष तौर पर ससुराल से वोट डालने के लिए मायके बुलाया था।

भाजपा प्रत्याशी नंदकुमार सिंह चौहान ने पत्नी के साथ घर में पूजन किया था। उन्होंने पत्नी के साथ गृहग्राम शाहपुर के वार्ड नंबर 9 के मतदान केंद्र पर मतदान किया। खरगोन विधानसभा के भाजपा प्रत्याशी गजेंद्र पटेल ने सपरिवार बड़वानी हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी स्थित मतदान केंद्र पर वोट दिया।भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष विधायक उषा ठाकुर ने सुबह 7 बजे इंदौर के संगम नगर बूथ पर मतदान किया।

इंदौर की महापौर मालिनी गौड परिवार के साथ लोधीपुरा बूथ पर मतदान करने पहुंची।

इंदौर में संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी खुद वाहन चलाकर मतदान करने पहुंचे। आगर-मालवा के मतदान केंद्र क्रमांक 212 ग्राम ठिकरिया में मतदान के बहिष्कार की सूचना सामने आई है। गांव में 8 किमी पहुंच मार्ग की मांग को लेकर बहिष्कार किया। गांव में कुल 798 मतदाता है। तहसीलदार उन्हें मनाने के लिए पहुंचे। नीमच के जयसिंहपुरा गांव में नवदंपती ने मतदाधिकार का उपयोग किया। सोनकच्छ विधानसभा के गांव पटाड‍िया के नजदीक ईवीएम खराब होने से मतदान देरी से शुरू हुआ। सेक्टर प्रभारी के आने के बाद दूसरी मशनी लगाई गई। करीब 7:30 बजे मॉकपोल के बाद मतदान शुरू हो सका।

देवास की बागली विधानसभा के कवटीयापानी गांव से मतदाता बैलागड़ी पर बैठकर तीन किमी दूर पलासी में मतदान करने पहुंचे।

खरगोन में 94 वर्षीय अभिभाषक कुलकर्णी ने वोट दिया। रतलाम के ग्रामीण इलाकों में भी मतदान को लेकर उत्साह नजर आ रहा है। इंदौर में फोटो आईडी लेकर नहीं पहुंचे मतदाताओं को वापस लौटाया जा रहा है। सेंधवा के वार्ड क्रमांक 6 शास्त्री कॉलोनी कृष्णा राजाराम कोहली की आज शादी है, इसके पहले वे सुबह मतदान करने पहुंचे।

शाजापुर में दिव्यांग सिद्धनाथ ने दिया वोट

शाजापुर में दिव्यांग सिद्धनाथ वर्मा ने परिवार के साथ वोट दिया। वे वार्ड क्रमांक 18 हरायपुरा स्थित 184 नंबर मतदान केंद्र पर वोट देने पहुंचे थे। सिद्धनाथ वर्मा दोनों हाथ और एक पैर से दिव्यांग है फिर भी वोट देने के लिए उनका जज्बा दूसरों से कम नहीं। मतदान केंद्र पर उनके पैर की अंगुली में अमिट स्याही लगाई गई। वे शाजापुर के दिव्यांग आइकॉन भी है। मतदान के दौरान उन्होंने कहा कि चाहे कैसी भी परिस्थिति हो, हमें मतदान जरूर करना चाहिए।

धार जिले के सरदारपुर में दिव्यांग मतदान केंद्र 186 पर सुबह से मतदाताओं की लंबी कतार लगी रही। इंदौर में एसएसपी रुचिवर्धन मिश्र ने विजयनगर स्थि‍त मतदान केंद्र पर मतदान किया। उन्होंने शहर के नागरिकों से भी मताधिकार का प्रयोग करने की अपील की है।

नीमच में पूर्व विधायक डॉ संपत जाजू व उनकी पत्नी डॉं संतोष जाजू ने वोट दिया। इंदौर में विधानसभा एक क्षेत्र में पोलिंग बूथों के बाहर सुबह से ही वोटरों की भीड़ लगी है। नीमच जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों में मतदान के प्रति अधिक उत्साह नजर आ रहा है। मंदसौर में भी उत्साह के साथ मतदान जारी है।

देवास में बीएसएफ जवान बुजुर्ग मतदाताओं को पोलिंग बूथ के अंदर लेकर पहुंचे। खंडवा लोकसभा सीट भाजपा प्रत्याशी व सांसद नंदकुमारसिंह चौहान ने वोट डालने से पहले घर में पूजा अर्चना की। सेंधवा में दुल्हन ने पहले किया मतदान फिर निभाएंगी शादी की रस्में।

उज्जैन के जीडीसी कॉलेज में अपने निर्धारित समय से आधे घंटे लेट शुरू हुआ। यहां कई लोग बिना मतदान किए चले गए। ईवीएम मशीन काम नहीं कर रही थी, सुबह 7:38 पर मतदान शुरू हो सका। उज्जैन में पूर्व मंत्री पारस जैन साइकिल से वोट करने निकले। देवास शहर के मेंढकीचक में सुबह से मतदाताओं की कतार लगी हुई है। इंदौर में मानवता नगर के कोलंबिया स्कूल में पोलिंग बूथ पर ईवीएम खराब होने से समय पर मतदान शुरू नहीं हो सका। इंदौर के महालक्ष्मी नगर में पायनियर स्कूल 208 पार्ट 115 में समय पर मतदान शुरू नहीं हुआ। यहां मतदाताओं की लंबी लाइन लगी रही, कई मतदाता लोग बिना वोट दिए लौट गए।

इंदौर लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी पंकज संघवी ने परिवार के साथ वोट दिया।

इंदौर में स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट परिवार के साथ वोट डालने पहुंचे।

देवास-शाजापुर सीट से कांग्रेस प्रत्याशी प्रहलाद टिपानिया ने सुबह-सुबह ही वोट दिया।

सेंधवा में दगड़ीबाई कन्या शाला के बूथ नंबर 57 पर वोटिंग मशीन में खराबी के कारण मतदान कुछ देर के लिए रूका है।

इंदौर के विधानसभा-1 के बूथ नंबर 107, महेश यादव नगर में EVM बंद हो गई है। यहां अभी तक मतदान शुरु नही हुआ है। लोग कतार में लगे हैं। इसी मतदान केंद्र में देवास-शाजापुर लोकसभा के भाजपा उम्मीदवार महेंद्रसिंह सोलंकी वोट डालने पहुंचे हैं।

इंदौर के विधानसभा-3 के बूथ 206 में भी मॉक वोटिंग के बाद EVM बंद हो गई है। अभी तक मतदान शुरु नही हुआ, इसलिए मतदाताओं की लंबी कतार लगी है।

इंदौर में जिला अस्पताल के सामने गुजराती धर्मशाला में ईवीएम मशीन चालू नही हो रही। मतदान केंद्र पर लगी भीड़ -

सेंधवा में भी सुबह से लगी मतदाताओं की कतार -

देवास के तनोडिया क्षेत्र में वोट देने आए दिव्यांग का पुष्प माला से स्वागत किया गया -

रतलाम में भी मॉकपोल से पहले मतदाताओं की लंबी कतार लग गई -

खरगोन में आदिवासी अंचल में सुबह से ही महिलाओं की लंबी कतार देखने के मिली -

- सुबह सात बजे से मतदान शुरू। दोपहर में तेज गर्मी से बचने के लिए अधिकतर मतदाता सुबह जल्दी मतदान करने पहुंच रहे हैं।

- मतदान केंद्रों पर सुरक्षा की पर्याप्त व्यवस्था की गई है।

- सभी आठ सीटों पर मतदान के लिए पूरी तैयारियां हो चुकी है। कई मतदान केंद्रों पर सुबह से मतदाताओं के लंबी कतार लगी हुई है।

Posted By: Sandeep Chourey