Madhya Pradesh News : इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। पति के पेट में पानी भरने के बाद जान का खतरा होने लगा। जब जांच करवाई तो लिवर खराब पाया गया। पत्नी ने अपने एक किलो वजनी लिवर का आधा हिस्सा (575 ग्राम) देकर पति की जान बचाई। 16 जुलाई को सफल लाइव लिवर डोनर ट्रांसप्लांट हुआ। कुछ दिनों तक अस्पताल में रहने के बाद पत्नी को छुट्टी दे दी गई थी। वहीं पति को रविवार को डिस्चार्ज किया गया। केडेवर लिवर ट्रांसप्लांट के बाद शहर में पहली बार लाइव डोनर लिवर ट्रांसप्लांट किया गया।

इंदौर के एलआइजी चौराहा स्थित एक अस्पताल में यह सफल ऑपरेशन हुआ। प्रदेश में यह पहला मामला है जिसमें डोनर के जीवित रहते उसके लिवर का एक टुकड़ा मरीज के शरीर में ट्रांसप्लांट किया गया। इंदौर के डॉ. विनीत गौतम, डॉ. अमित गांगुली, दिल्ली के डॉ. वासुदेवन और टीम के सहयोग से यह ट्रांसप्लांट किया गया।

मरीज को डिस्चार्ज करते समय मेडिकल कॉलेज की डीन डॉ. ज्योति बिंदल मौजूद थीं। अस्पताल के चेयरमैन राजेश भार्गव ने बताया कि आष्टा निवासी पंचायत सचिव 45 वर्षीय तेजसिंह मेवाड़ा लंबे समय से लिवर की समस्या से पीड़ित थे। पेट में बार-बार पानी भरने के कारण बेहद तकलीफ में थे।

उनका इलाज डॉ. अमोल पाटिल कर रहे थे लेकिन इलाज दवाइयों से संभव नहीं था। डॉ. पाटिल ने मरीज से अनुमति लेकर डॉ. गौतम से संपर्क किया। इसके बाद मरीज को लिवर ट्रांसप्लांट की सलाह दी। इसके लिए मरीज की पत्नी लाडकुंवर (35) ने अपने लिवर का हिस्सा देने की सहमति जताई।

दोनों की जांच करने के बाद 16 जुलाई को ट्रांसप्लांट किया गया जो सफल रहा है। ऑपरेशन के दो सप्ताह बाद रविवार को मरीज को अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया। ऑपरेशन के पहले एमजीएम मेडिकल कॉलेज की डीन डॉ. ज्योति बिंदल व अंग प्रत्यारोपण प्राधिकार समिति और गांधी मेडिकल कॉलेज भोपाल ने मरीज की जानकारी दी।

12 घंटे चला ऑपरेशन

सर्जन डॉ. गांगुली ने बताया कि 16 जुलाई को किया गया ऑपरेशन 12 घंटे में पूरा हो पाया। सबसे पहले डोनर सुरक्षित रहे यह ध्यान रखना होता है। ताकि उसके जीवन को खतरा न हो। साथ उसके लिवर का कितना हिस्सा लेना है यह भी देखना होता है। पहले डोनर के लिवर को लिया गया फिर मरीज को ट्रांसप्लांट किया गया। यह बेहद कठिन प्रक्रिया होती है। इस ऑपरेशन में चार सर्जन व 20 से अधिक सहयोगी शामिल थे।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस