इंदौर/उज्जैन/शाजापुर/मंदसौर। मध्य प्रदेश के एक दर्जन से ज्यादा जिलों में पिछले तीन दिनों से भारी बारिश हो रही है। खासतौर पर मालवा-निमाड़ के जिलों में तो आसमान से आफत बरस रही है। भारी बारिश के चलते मालवा-निमाड़ के कई जिलों में बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। नर्मदा नदी उफान पर होने से मोरटक्का पुल पर छठे दिन भी आवागमन शुरू नहीं हो सका। पुल से नर्मदा करीब 20 फीट नीचे है। बड़वाह में भी नर्मदा 164 मीटर पर बह रही है। मंडलेश्वर में 150 मीटर और 148 मीटर पर बह रही है। बड़वानी जिले के चाचरिया में 24 घंटे में चार इंच वर्षा हुई।

मौसम विभाग ने मालवा-निमाड़ के धार, अलीराजपुर, देवास, बड़वानी जिलों में आज भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है।

मंदसौर में शिवना ने किया भगवान पशुपतिनाथ का पांचवीं बार अभिषेक

मंदसौर में भी भारी बारिश हो रही है। इसके चलते आज सुबह पहली बार गांधी सागर बांध के 19 गेट खोले गए हैं। वहीं सीजन में पांचवीं बार शिवना नदी ने भगवान पशुपतिनाथ का अभिषेक किया है। पानी मंदिर के गर्भगृह के भीतर पहुंच गया है। भारी बारिश के चलते मंदसौर में भी आज स्कूल बंद रहेंगे। नदी में आई बाढ़ से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। एहतियातन नदी के घाटों की ओर लोगोंं को जाने नहीं दिया जा रहा है। पानी से भरे खेतों में फसलें पूरी तरह से चौपट होने की कगार पर है। फसलों की हालत देख कि सानों की परेशानी भी बढ़ रही है। नदी-नाले लगातार उफान पर चलने से जिलेभर में 10 से अधिक मार्गो से आवागमन बंद हो गया है।

जिले में निरन्तर हो रही अत्यधिक वर्षा के कारण 14 सितम्बर को जिले के सभी शासकीय व अशासकीय विद्यालयों (सीबीएसई सहित) में विद्यार्थियों के लिए अवकाश घोषित है। सभी संकूल प्राचार्य, विखं शिक्षा अधिकारी, विकास खण्ड स्रोत समन्वयक जिला मंदसौर अपने क्षेत्र अन्तर्गत आनेवाले सभी शासकीय व अशासकीय विद्यालयों में उक्त आदेश का पालन कराना सुनिश्चित करें।

शाजापुर में भी बाढ़ जैसे हालात, आज भी स्कूल बंद

शाजापुर में पिछले तीन दिन से भारी बारिश हो रही है। इसके चलते चीलर नदी में बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं। शुक्रवार शाम को एहतियातन प्रशासन ने निचली इलाकों के लिए अलर्ट जारी किया और मुनादी कराकर लोगों से सुरक्षित स्थानों पर जाने की अपील की। जिले हो रही अनवरत भारी वर्षा को देखते हुए कलेक्टर डॉ. वीरेंद्रसिंह रावत की सहमति से जिला शिक्षा अधिकारी यूयू भिड़े ने शनिवार को जिले के सभी स्कूलों में अवकाश घोषित कर दिया है। शनिवार को जिले के समस्त शासकीय एवं अशासकीय विद्यालयों के नर्सरी से लेकर 12वीं कक्षा तक के विद्यार्थियों तथा आंगनबाड़ी केंद्रों के बच्चों के लिए अवकाश घोषित रहेगा।

चीलर नदी का पानी शाजापुर के निचले इलाकों में घुसा

शाजापुर में तेज बारिश का दौर जारी। रातभर में शहर में 3 इंच बारिश हो गई है। चीलर नदी किनारे सरकारी स्कूल में दो फीट तक पानी है। जबकि 30 से अधिक घर-दुकानों में भी यही हालत है। चीलर नदी 6 फीट ऊपर से बह रही है। कुछ रास्ते बंद हो चुके हैं। भारी बारिश के चलते ओम्कारेश्वर मंदिर परिसर में 4 फीट तक पानी भर गया है। आसपास के इलाकों में भी चीलर नदी का पानी भर गया है।

उज्जैन, देवास में भी आज बंद रहेंगे स्कूल

पिछले 24 घंटे में उज्जैन में साढ़े तीन इंच बारिश रिकॉर्ड हुई है। शिप्रा नदी पूरे उफान पर है। रामघाट के किनारे कई मंदिर डूब गए हैं। पानी बड़े पुल को छूने को तैयार है। उज्जैन से बड़नगर का सड़क संपर्क टूट गया है।

नीमच में भी भारी बारिश जारी

नीमच के सैलाना में भारी बारिश के बाद हनुमान सागर तालाब लबालब हो गया है। नगर परिषद के अमले ने आज सुबह तालाब के ओवर फ्लो होने पर गेट खोला। नीमच जिले के केशरपुरा गांव में पानी में पुलिया डूबी होने के बाद भी ग्रामीण ने ट्रैक्टर में बैठाकर स्कूली बच्चों को पुलिया पार कराई। इसका एक वीडियो वायरल हो रहा है।