इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। आठ वर्ष तक एक-दूसरे से प्यार किया। दो साल पहले परिवार के विरोध को दरकिनार कर शादी भी कर ली। प्रेमी जोड़े से पति-पत्नी बने युवक-युवती के बीच साड़ी पहनने की बात ने फासला खड़ा कर दिया। पत्नी घर छोड़कर चली गई।

शिकायत लेकर महिला एवं बाल विकास विभाग में पहुंच गई। महीनेभर विभाग काउंसिलिंग करता रहा। मंगलवार को दोनों को बुलाकर छह घंटे तक लगातार समझाइश दी गई। पत्नी को जेब खर्च देने से लेकर कॉस्मेटिक दिलाने जैसी मांगों पर पति ने हामी भरी। तब जाकर पत्नी कुछ शर्तों के साथ साड़ी पहनने और ससुराल में रहने को तैयार हुई।

महिला एवं बाल विकास विभाग के वन स्टॉप सेंटर में ऐसा रोचक प्रकरण निराकरण के लिए पहुंचा। सेंटर की प्रशासक डॉ.वंचना सिंह परिहार के मुताबिक, 2 सितंबर को युवती ने शिकायत की थी। उसने कहा था कि वह पति के साथ रहना नहीं चाहती।

विभाग की काउंसलर सीमा राजपूत ने युवती से बात की तो पता चला कि अलग-अलग जाति के होते हुए भी दोनों ने दो साल पहले प्रेम विवाह किया था। ससुराल वालों ने दोनों को अपना लिया था। लेकिन लड़की ने यह कहते हुए घर छोड़ दिया कि उसे पति और ससुराल वाले साड़ी पहनने के लिए मजबूर करते हैं। युवती का कहना था कि साड़ी पहनना उसे सहूलियत भरा नहीं लगता। इसलिए वह अब साथ नहीं रहना चाहती। अलग रहने से बात तलाक तक पहुंच गई थी। 28 दिनों में दो बार लड़की की काउंसिलिंग की गई।

पति ने किए कई वादे तो पत्नी चल दी साथ

मंगलवार को तीसरी काउंसिलिंग में युवती के पति और मां को भी वन स्टॉप सेंटर बुलाया गया। युवती ने कहा कि वह पति से प्यार करती है लेकिन पति परिवार का हवाला देकर साड़ी पहनने को कहता है इसलिए वह साथ नहीं रहेगी। मंगलवार को छह घंटे लगातार पति-पत्नी और परिवार वालों की काउंसिलिंग की गई। लड़की तैयार हुई कि थोड़ा वह एडजस्ट करेगी और थोड़ा पति करे। पति ने हामी भरी कि पिता के दफ्तर जाने के बाद वह अपनी पसंद के कपड़े पहन सकती है। बाद में युवती ने पसंद का मोबाइल, कॉस्मेटिक और जेब खर्च के रुपये देने का वादा पति से लिया। दोनों के स्वजन को भी समझाइश दी गई। लंबी काउंसिलिंग के बाद युवती ने शिकायत वापस ले ली और ससुराल चली गई।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020