Health Tips: इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। आज की भाग दौड़ भरी जिंदगी में पुरुष भी कमजोरी और थकान की समस्या से ग्रसीत हो रहे हैं। उसकी वजह सही तरह से और पर्याप्त शारीरिक श्रम नहीं करना, वक्त पर संतुलित और पौष्टीक भोजन नहीं करना, नशे की गिरफ्त में आना, मानसिक तनाव आदि है। परिस्थितियों को बदलना तो आसान नहीं होता लेकिन खानपान की आदत और भोजन में पोषक तत्वों को शामिल कर बहुत हद तक स्वस्थ रहा जा सकता है।

आहार व पोषण विशेषज्ञ डा. आरती मेहरा के अनुसार महिलाओं के मुकाबले पुरुषों को अधिक पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है। थकान और कमजोरी से बचने के लिए आहार पर ध्यान देना जरूरी है। भारतीय खाने की बात करें तो थाली में दाल-चावल, सब्‍जी-रोटी सामान्य है। यह आहार ही हमारे ल‍िए सबसे बेहतर है। हमें इसी तरह का भोजन दोनों वक्त करना चाहिए। क‍िसी भी स्‍थानीय लोगों के ल‍िए उनकी जगह पाया जाने वाला खाना सबसे अच्‍छा होता है। औसत कदकाठी और सामान्य कार्य करने वाले पुरुषों को द‍िनभर में दो हजार से 25 सौ कैलोरी की जरूरत होती है। इसके अनुरूप ही आप भोजन अपनी थाली में शामिल करें।

भोजन में गेहूं की जगह मल्‍टीग्रेन आटे की रोटी खाएं और सफेद की जगह ब्राउन राइस का उपयोग करें। बात अगर मसालों की करें तो हल्‍दी, धन‍िया पाउडर, जीरा, राई, हींग, गरम मसाला, दालचीनी, इलायची और लौंग का उपयोग करें। टमाटर, अदरक, कद्दू, श‍िमला म‍िर्च और हरी सब्‍ज‍ी आद‍ि को अपने रोज के भोजन में शामिल करें। फलों की बात करें तो अनार, सेब, अंगूर, पपीता आद‍ि के सेवन से गुरेज न करें और नियमित रूप से फल खाएं। दही, सलाद, फल‍ियां, होल ग्रेन्‍स का भी सेवन करें। पैक्‍ड या इंस्‍टेंट फूड्स के सेवन से बचें। तेल और ज्‍यादा म‍िर्च-मसाले में बना भोजन करने से आपको बचना चाह‍िए। ठीक से पका हुआ खाना खाएं। कच्‍चा मांस और कच्ची सबि्जयां नहीं खाएं।

हृदय रोग और अन्‍य समस्‍याओं से बचने के ल‍िए पुरुषों को एक द‍िन में 2200 म‍िलीग्राम से ज्‍यादा सोड‍ियम नहीं खाना चाह‍िए। पुरुषों में उच्च रक्तचाप, कोलेस्‍ट्राल की समस्‍या भी आम होती है ज‍िससे बचने के ल‍िए उन्‍हें ओमेगा-3 फैटी एस‍िड का सेवन करना चाह‍िए। पुरुषों को एक द‍िन में करीब 39 ग्राम फाइबर का सेवन करना चाह‍िए। रेशेदार पदार्थ खाने से मोटापा, द‍िल की बीमारी, कैंसर आद‍ि का खतरा कम होता है। पुरुषों को एक द‍िन में करीब 100 ग्राम प्रोटीन का सेवन करना चाह‍िए।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close