Miss Diva 2020 इंदौर। 70 प्रतिभागी और हरेक की निगाह उस मुकाम पर जहां मॉडलिंग का शौक रखने वाली हर मॉडल जाना चाहती है। कभी चाल में आत्मविश्वास तो कभी परिपक्व जवाब, कभी चेहरे की खूबसूरती ध्यान आकर्षित करती तो कभी लंबाई और हुनर अंक बढ़ाने की भरसक कोशिश करते। एक के बाद एक मॉडल्स ने अपनी पूरी क्षमता के साथ रैंप वॉक किया और ऑडिशन की दौड़ में आठ का हाथ सफलता ने थाम लिया। शनिवार की शाम शहर में मिस दिवा 2020 के ऑडिशन हुए। मिस दिवा के 8वें सीजन के इस ऑडिशन में आठ मॉडल्स का चयन अगले राउंड के लिए कर लिया गया। इन आठ में से तीन मॉडल इंदौर से जुड़ी हैं। इन तीन में से भी रिधिमा फिरके मूल रूप से इंदौर की ही रहने वाली हैं जबकि आवृति चौधरी जबलपुर की हैं और इंदौर में रहकर पढ़ाई कर रही है। इसी तरह शिवपुरी की अलिशा खान भी इंदौर में रहकर मास कम्युनिकेशन का कोर्स कर रही हैं। ऑडिशन की निर्णायक अंशु खथुरिया और फरहा सैयद ने बताया कि मॉडल्स का चयन केवल लुक के आधार पर ही नहीं हुआ बल्कि उनके वॉक करने के तरीके, आत्मविश्वास, लंबाई को ज्यादा ध्यान में रखकर किया गया है।

यहां से तमाम शहरों में होने वाले ऑडिशन में चयनित होने वाली मॉडल्स के सबकांटेस्ट राउंड बैंगलुरू, मुंबई, दिल्ली और जयपुर में होंगे। वहां से क्रमश: बेहतर मॉडल्स का ग्रैंड फिनाले के लिए चयन किया जाएगा। ग्रैंड फिनाले फरवरी के अंतिम सप्ताह में मुंबई में होगा। मिस दिवा 2020 की विजेता मिस यूनिवर्स 2020 में और मिस दिवा सुप्रानेशनल 2020 में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगी।

देखना है पैशन किस मुकाम पर ले जाता है

शहर की रिधिमा फिरके इन दिनों मुबंई में रहकर मॉडलिंग की दुनिया में कॅरियर बनाने की तैयारी कर रही हैं। बीबीए करने वाली रिधिमा का सपना सुपर मॉडल बनना है। वे कहती हैं कि मॉडलिंग मेरा पैशन है और देखना चाहती हूं कि मेरा पैशन मुझे किस मुकाम पर ले जाता है। मेरी नजर में खूबसूरती केवल रूप-रंग ही नहीं बल्कि लंबाई, आत्मविश्वास, अच्छा दिल, हुनर, स्वास्थ्य सभी का संयुक्त रूप है। मैं बहुत खुश हूं कि पहली बार इस कांटेस्ट के लिए ऑडिशन दिया और मेरा चयन हो गया।

अब करंट अफेयर पर ध्यान

जबलपुर की रहने वाली आवृति चौधरी ने इंदौर में रहकर शिक्षा प्राप्त की है। इन्होंने मिस्टर एंड मिस एमपी इंदौर का खिताब भी जीता है। आवृति कहती हैं मेरी रुचि हमेशा से ही मॉडलिंग की दुनिया में रही। शुरुआत में परिवार इस बात के लिए रजामंद नहीं था कि मैं मॉडलिंग करूं पर इंदौर में जब मैं विजेता बनी तो परिवार ने भी हामी भर दी। अब खुद को निखारने के लिए करंट अफेयर, बात करने के ढंग और वॉक करने के तरीके पर ध्यान दे रही हूं।

बनना है प्रोफेशनल मॉडल

शिवपुरी की अलिशा खान इंदौर में रहकर मास कम्युनिकेशन कर रही हैं। वे बताती हैं पिता फोटोग्राफर हैं। बचपन से ही वे मेरे फोटो लेते आ रहे हैं। कहीं न कहीं मन में मॉडलिंग की बात घर कर गई थी। मैं एक सफल मॉडल बनना चाहती हूं इसलिए फिटनेस पर सबसे ज्यादा ध्यान देती हूं। मुझे प्रोफेशनल मॉडल बनना है।

इनका हुआ चयन

स्नेहप्रिया रॉय- मुंबई

अनिशा शर्मा- नागपुर

रिधिमा फिरके- इंदौर

तान्या मित्तल- ग्वालियर

आवृत्ति चौधरी- इंदौर

तेजल पाटिल- धुले

अलिशा खान- इंदौर

मोनिका द्विवेदी- भोपाल।

Posted By: Prashant Pandey