इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि । विभिन्न शासकीय विभागों में लंबित आम जनता की समस्याओं और शिकायतों के निराकरण के लिए राज्य शासन ने सीएम हेल्पलाइन सेवा शुरू की है। पर कोरोना महामारी के लाकडाउन के कारण करीब नौ हजार से अधिक मामले लंबित हो गए हैं। इनमें सर्वाधिक लंबित मामले पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग की है जिसमें विद्यार्थियों को एक साल से अधिक समय से उनकी छात्रवृत्ति नहीं मिल पाई है। ऐसे मामलों की संख्या दो हजार से अधिक है।

इसके अलावा नगर निगम से संबंधित शिकायतों की संख्या भी एक हजार से अधिक बताई जा रही है। इनमें बारिश आने से जलजमाव की कई शिकायतें भी शामिल हो गई हैं। पुलिस से संबंधित करीब 800 शिकायतें हैं, जिनका लंबे समय से निराकरण नहीं हो पा रहा है। साथ ही राजस्व विभाग से जुड़ी 700 शिकायतें भी अपनी जगह कायम हैं। इनमें नामांतरण, बंटवारा, सीमांकन, नजूल एनओसी सहित विभिन्न योजनाओं से जुड़े प्रमाण-पत्र न मिलने की शिकायतें भी हैं। इनके अलावा स्वास्थ्य विभाग, शिक्षा विभाग, कृषि विभाग, महिला एवं बाल विकास, सहकारिता विभाग जैसे विभागों की शिकायतें भी लंबित चली आ रही हैं।

अधिकारियों का कहना है कि कोरोना महामारी के कारण राजस्व, नगर निगम, पुलिस, महिला एवं बाल विकास आदि विभागों के अधिकारी कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर चल रहे अभियान, सर्वे आदि में भी जुड़े रहे हैं। जनता कर्फ्यू, कोरोना कर्फ्यू या लाकडाउन के कारण शासकीय कार्यालय भी बंद रहे। अब शिकायतों की निगरानी कर उनका निपटारा करने की तैयारी की जा रही है। कुछ विभागों ने इनका निराकरण करना शुरू भी किया है।

Posted By: Sameer Deshpande

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags