इंदौर Indore News । माध्यमिक शिक्षा मंडल की 10वीं बोर्ड परीक्षा में सौ फीसद अंक लाने वाले विद्यार्थियों में इंदौर जिले के शासकीय मॉडल स्कूल महू की छात्रा कविता लोधी भी हैं। यह पहला मौका है जब 10वीं की राज्यस्तरीय मेरिट सूची में इंदौर जिले के किसी सरकारी स्कूल की छात्रा प्रथम स्थान पर आई है। राज्यस्तरीय मेरिट सूची में इंदौर जिले के 12 छात्र हैं। इनमें से चार सरकारी और आठ छात्र प्राइवेट स्कूलों के हैं। पिछले वर्ष 10वीं में राज्यस्तरीय मेरिट में इंदौर जिले का एक भी छात्र नहीं था। 300 में से 299 अंक लाकर इंदौर की महुआ घोष इंदौर शहर की टॉपर बनीं।

गौरतलब है कि मप्र माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) ने कक्षा 10वीं के नतीजे घोषित कर दिए। इस हाईस्कूल परीक्षा में प्रदेश के 15 होनहार विद्यार्थी शत-प्रतिशत अंक लाकर राज्य की मेधावी सूची में पहले स्थान पर रहे। इसमें पांच छात्र गुना के हैं।

वहीं, भोपाल की एक छात्रा कर्णिका मिश्रा व इंदौर जिले की कविता लोधी भी शामिल है। इस बार का परीक्षा परिणाम 62.84 फीसद रहा, जबकि पिछले साल 61.32 प्रतिशत था। इस तरह पिछले साल के मुकाबले 1.52 फीसद रिजल्ट ज्यादा रहा। टॉप-10 की राज्य स्तरीय मेधावी सूची में 360 परीक्षार्थियों को स्थान मिला है, जबकि पिछले साल यह संख्या 144 थी। बेटियों ने फिर लहराया परचमप्रदेश की बेटियों ने दसवीं की परीक्षा में बाजी मारकर पिछले वर्ष की तरह इस बार भी अपना परचम लहराया है।

इस बार 65.87 फीसद छात्राएं पास हुई हैं, जबकि 60.09 फीसद छात्र पास हुए हैं। बता दें, कि इस वर्ष दसवीं की मप्र बोर्ड परीक्षा में 8 लाख 93 हजार 336 विद्यार्थी शामिल हुए थे। इनमें 62.84 फीसद विद्यार्थी पास हुए हैं। वहीं प्रायवेट परीक्षा देने वाले 16.95 फीसद विद्यार्थी पास हुए हैं।

पिछले साल से 1.52 फीसद परिणाम ज्यादा माशिमं ने 2017 में "बेस्ट ऑफ फाइव योजना" लागू की थी। इस योजना के तहत कक्षा 10वीं के विद्यार्थियों के परीक्षा परिणाम की गणना पांच विषय में होती है। अगर छह विषयों में परीक्षा दी है, उनमें से पांच विषयों, जिनमें सबसे अधिक अंक आए हैं, उसे ही परीक्षा परिणाम की गणना में जोड़ा जाता है।

अगर कोई विद्यार्थी एक विषय में फेल भी हो गया और अन्य पांच में पास है तो वह उत्तीर्ण माना जाता है। इस बार अंग्रेजी माध्यम के बच्चों का चार विषयों का पेपर हुआ था और हिंदी माध्यम के बच्चे पांच विषयों का पेपर दे पाए थे। इसमें ही बेस्ट ऑफ फोर लागू कर रिजल्ट तैयार किया गया।

दो विषयों में जनरल प्रमोशनकोरोना संक्रमण के कारण दसवीं में भाषा के दो पेपर निरस्त हुए थे। इन विषयों में परीक्षार्थियों को जनरल प्रमोशन दिया गया और उनकी अंकसूची में अंकों के स्थान पर उत्तीर्ण लिखा गया है। जिन विषयों की परीक्षाएं संपन्न हुई हैं, उन्हीं विषयों के आधार पर परीक्षाफल तैयार किया गया है।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan