MP Board : इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं में आवेदन करने की अंतिम तारीख समाप्त हो चुकी है। अब विद्यार्थियों को लेट फीस के साथ फार्म जमा करना होंगे। स्कूलों ने विद्यार्थियों को राहत देते हुए माध्यमिक शिक्षा मंडल से लेट फीस कम करने की गुहार लगाई है, क्योंकि नवंबर बाद विद्यार्थियों से दो से 10 हजार रुपये अतिरिक्त वसूले जाएंगे। इसके चलते स्कूलों ने फीस कम करने की मांग उठाई है।

मान्यता निरस्त होने के चलते कई निजी स्कूलों में पढ़ने वाले 10वीं और 12वीं के विद्यार्थी फार्म भरने से वंचित रहे गए हैं। वहीं प्राइवेट परीक्षा देने वाले छात्र-छात्राओं को आनलाइन आवेदन करने में दिक्कतें आ रही है। इसके चलते 30 सितंबर तक सैकड़ों विद्यार्थी फार्म जमा नहीं कर पाए हैं। 1 अक्टूबर से विलम्ब शुल्क के साथ फार्म भरे जाएंगे। परीक्षा शुल्क 900, पोर्टल चार्ज 25 और विलम्ब शुल्क 100 रुपये जमा करना है। मगर 1 से 20 नवंबर से लेट फीस करीब दो हजार रुपये वसूली जाएगी। 21 नवंबर से 15 दिसंबर तक फार्म भरने के साथ विद्यार्थियों को पांच हजार देना होंगे। वहीं 16 से 31 दिसंबर के बीच आनलाइन आवेदन करने के साथ छात्र-छात्राओं को दस हजार रुपये लेट फीस लगेगी।

विद्यार्थियों को आ रही कई परेशानियां - कई विद्यार्थियों के माता-पिता ने लेट फीस कम करवाने की गुहार लगाई है। स्कूलों ने भी विद्यार्थियों को राहत देते हुए शुल्क में कम करने की मांग की है। हालांकि, अभी तक विभाग ने कोई दिशा-निर्देश जारी नहीं किए हैं। सहयोग निजी विद्यालय संघ के सचिव आशीष तिवारी का कहना है कि आठवीं पास कर दसवीं प्राइवेट देने वाले विद्यार्थियों को फार्म जमा करने में दिक्कतें आ रही हैं, क्योंकि उनके समग्र आइडी में नाम व पत्ते की गलतियांं है। ऐसे में इन विद्यार्थियों को लेट फीस लगना है। कई छात्र-छात्राओं की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है। इसके लिए विभाग से फीस कम करने की मांग रखी है।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close