MP Board of Secondary Education इंदौर। नईदुनिया प्रतिनिधि। कोरोना संक्रमण के कारण पहली से आठवीं तक की स्कूल है अभी नहीं खोली जा रही रही है। स्कूल खुलने पर बच्चों पर पढ़ाई का अतिरिक्त बोझ आ जाएगा। जिसे देखते हुए अब आठवीं तक के कोर्स में प्रोजेक्ट वर्क को भी शामिल करने की तैयारी है। जिसमें विषय वार कुछ अध्याय को लेकर प्रोजेक्ट तैयार करना होगा। इसके अलग से नंबर रहेंगे। शासन प्रोजेक्ट के रूप में भी सिलेबस को बदलने की तैयारी कर ली है। बच्चों को परीक्षा के साथ ही प्रोजेक्ट बनाने के लिए दिए जाएंगे। जिसे इन्हें तिथि तक स्कूल में सबमिट करना होगा।

स्कूलों में सिलेबस की भेजी जानकारी

माध्यमिक शिक्षा मंडल ने 9वी, 11वीं और 12वीं कक्षा के लिए सिलेबस की जानकारी जिलों में शिक्षा विभाग को भेज दी है। इसमें हिंदी, अंग्रेजी, संस्कृत, उर्दू, सामाजिक विज्ञान, इनफॉर्मेटिक्स प्रैक्टिस, इतिहास, भूगोल, राजनीति विज्ञान, समाजशास्त्र और मनोविज्ञान की पुस्तकों को शामिल किया गया है।भाषाओं में विशिष्ट और सामान्य का प्रावधान भी खत्म कर दिया गया है। जिला स्तर पर चुके हैं।

कोर्स को लेकर स्पष्ट स्थिति

माध्यमिक शिक्षा मंडल ने पहली से बारहवीं तक सिलेबस कम करने का आदेश जारी किया था। 1 माह से अधिक होने के बाद भी जिला स्तर पर यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि किस विषय में से क्या कम होगा। इससे सरकारी स्कूलों में आंशिक रूप से पहुंच रहे बच्चे और शिक्षक असमंजस की स्थिति में है। सहयोग अशासकीय विद्यालय संघ के आशीष तिवारी और अन्य पदाधिकारियों ने बताया विषय वार पाठ्यक्रम में क्या नहीं पढ़ाना है। यह जानकारी जल्दी उपलब्ध करवाई जाना जरूरी है। जिससे बच्चों को वही बढ़ाया जाए जो परीक्षा में शामिल होगा।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020