इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। MP By-Elections मध्य प्रदेश में चल रहे विधानसभा उपचुनाव में डाक मतपत्र से वोट डालने का काम जारी है, जो 29 अक्टूबर को समाप्त हो जाएगा। इस बार चुनाव में 80 साल से अधिक आयु, दिव्यांग और कोरोना मरीजों को भी डाक मतपत्र के जरिए वोट डालने का अधिकार दिया गया है। इंदौर जिले की सांवेर विधानसभा क्षेत्र में ऐसे 2128 मतदाता हैं, जिन्हें यह सुविधा दी जा रही है। गौरतलब है कि 21 अक्टूबर से शुरू हुए इस अभियान में मंगलवार तक 2034 मतदाता डाक मतपत्र से वोट डाल चुके थे। बचे हुए 94 मतदाताओं के बुधवार और गुरुवार तक वोट डालने की उम्मीद है। कुछ मतदाता क्षेत्र से बाहर हैं, फिर भी माना जा रहा है कि 98 फीसद तक मतदान हो जाएगा। यह पहली बार हो रहा है जब डाक मतपत्र के जरिए घर-घर जाकर वोट डलवाए जा रहे हैं। ऐसे में लोगों में इस तरह के मतदान को लेकर अधिक जिज्ञासा है। मतदाता सूची के हिसाब से पात्र मतदाताओं के वोट डलवाने के लिए जब भी मतदान दल किसी क्षेत्र में पहुंचते हैं तो वहां के लोग बहुत उत्सुकता से देखते हैं।

डाक मतपत्र से वोट डलवाने के लिए नोडल अधिकारी बनाए गए डिप्टी कलेक्टर अंशुल खरे ने बताया कि इस काम के लिए 60 दल बनाए गए हैं। इस काम में पूरी तरह निष्पक्षता और पारदर्शिता रखी गई है। राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों को पहले ही यह बता दिया गया था कि हमारे दल किस दिन, किस क्षेत्र में पोस्टल बैलेट से वोट डलवाने के लिए आएंगे। तारीख और समय के साथ इसका रूटचार्ट भी उपलब्ध करा दिया गया था। कई जगह उम्मीदवारों के प्रतिनिधियों और कार्यकर्ताओं ने इस प्रक्रिया को देखा और समझा। निर्वाचन आयोग के निर्देशों के अनुसार, हर दिन जो वोट डाले जा रहे हैं उनको सील करके शासकीय कोषालय में रखवाया जा रहा है।

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस