MP High Court : इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। हाई कोर्ट की एकलपीठ ने दुष्कर्म के कारण गर्भवती हुई दो पीड़िताओं को गर्भपात की अनुमति प्रदान की है। इनमें एक नाबालिग है व एक 29 वर्षीय दुष्कर्म पीड़िता है। मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट के आधार पर गुरुवार को यह अनुमति दी गई। दोनों याचिकाएं पीड़िताओं की ओर से ही लगाई गई थी। पीड़ित युवती इंदौर की जबकि नाबालिग खरगोन की रहने वाली है।

खरगोन जिले की 17 वर्षीय नाबालिग ने दिसंबर 2021 में यौन शोषण की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। याचिका में जानकारी दी गई कि इस घटना से उसे 12 सप्ताह का गर्भ है। कोर्ट ने इस मामले में भी मेडिकल बोर्ड को पीड़िता के मेडिकल परीक्षण के आदेश दिए थे। खरगोन के जिला अस्पताल की रिपोर्ट में उसे 13 सप्ताह और एक दिन के गर्भ होने की बात सामने आई। रिपोर्ट के आधार पर कोर्ट ने पीड़िता को गर्भपात की अनुमति दे दी।

कोर्ट ने दिए थे मेडिकल परीक्षण के आदेश - इंदौर की दूसरी पीड़ित युवती की ओर से लगाई याचिका में बताया गया कि 5 मई 2022 को भंवरकुआं थाने में उसके अपहरण और यौन शोषण की रिपोर्ट दर्ज करवाई गई थी। इस अपराध के कारण ही उसे 11 सप्ताह का गर्भ है। गुरुवार को कोर्ट ने युवती का मेडिकल परीक्षण करने के आदेश दिए थे। एमवाय अस्पताल के स्त्री रोग विभाग ने रिपोर्ट पेश की जिसमें गर्भ की अवधि 11 सप्ताह चार दिन की बताई गई। कोर्ट ने मेडिकल रिपोर्ट के आधार पर युवती को गर्भपात की अनुमति दे दी।

रिवाल्वर व राइफल दिखाकर डराने पर दो लोगों के शस्त्र लाइसेंस निलंबित

इंदौर। बिचौली मर्दाना में आनंद हैरिटेज में एक महिला के साथ विवाद के बाद उन्हें डराने, गालियां देने और जान से मारने की धमकी के मामले में कलेक्टर मनीष सिंह ने राजवर्धन शांडिल्य का राइफल शस्त्र लाइसेंस निलंबित कर दिया है। इसी तरह मिश्र नगर के मनी टैरेज अपार्टमेंट निवासी दिलीप सेंगर का 22 बोर रिवाल्वर शस्त्र का लाइसेंस भी निलंबित कर दिया है। सेंगर के खिलाफ गांधी नगर थाने में एक प्रकरण दर्ज है जिसमें उसने शराब पीने के लिए रुपयों की मांग कर एरोड्रम निवासी रामदास को रिवाल्वर दिखाकर जान से मारने की धमकी दी थी। उधर शांडिल्य के खिलाफ कनाड़िया थाने में प्रकरण दर्ज होने के बाद पुलिस ने किसी अप्रिय घटना को रोकने के लिए शस्त्र लाइसेंस निरस्त करने की रिपोर्ट दी थी। कलेक्टर ने आदेश किया है कि 24 घंटे के अंदर लाइसेंस और शस्त्र कनाड़िया थाने पर जमा किया जाए।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close