MP Honey trap case : इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। हनीट्रैप मामले के फरियादी और नगर निगम के निलंबित सिटी इंजीनियर हरभजन सिंह को हाई कोर्ट से राहत मिल गई है। कोर्ट ने हरभजन की याचिका पर बुधवार को सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया था।

गुरुवार को निलंबन निरस्त कर दिया। सितंबर 2019 में हनीट्रैप मामले में फरियादी निगम के सिटी इंजीनियर हरभजन सिंह को निलंबित कर दिया गया था। उस पर आरोप है कि उसने अपने पद का फायदा उठाते हुए मामले की आरोपित महिलाओं को आर्थिक फायदा पहुंचाया। इससे शासन को करोड़ों रुपये का नुकसान हुआ।

निलंबन को चुनौती देते हुए हरभजन ने हाई कोर्ट में याचिका दायर की थी। इसमें कहा था कि वह मूल रूप से रीवा नगर निगम का कर्मचारी है। उसे सिर्फ रीवा निगम ही निलंबित कर सकता है। निलंबित किए 45 दिन से ज्यादा वक्त बीत चुका है लेकिन आरोप पत्र नहीं दिया गया है। ऐसे में निलंबन निरस्त किया जाए।

हाई कोर्ट ने बुधवार को बहस सुनने के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया था। हाई कोर्ट की वेबसाइट के मुताबिक हरभजन की याचिका को कोर्ट ने स्वीकारते हुए निलंबन का आदेश निरस्त कर दिया है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना