MY Hospital Indore: इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। इंदौर के एमवाय अस्पताल के न्यूरो सर्जरी विभाग ने एक वर्ष (2022) में 1400 आपरेशन कर रिकार्ड बनाया है। न्यूरो सर्जरी विभाग अध्यक्ष डा. राकेश गुप्ता ने बताया कि वर्ष 2022 में 7500 मरीजों का बाह्य रोग विभाग में परीक्षण किया गया। इनमें से करीब 2500 मरीजों को भर्ती कर इलाज किया गया। सिर एवं स्पाइन की चोट, ब्रेन ट्यूमर, ब्रेन हेमरेज, रीढ़ की हड्डी से संबंधित 650 बड़े आपरेशन सहित करीब 1400 आपरेशन किए गए। लाभांवित मरीजों में बड़ी संख्या में बच्चे भी शामिल हैं।

डा. राकेश गुप्ता ने बताया कि पश्चिमी मप्र के सबसे बड़े न्यूरो सर्जरी विभाग में छह वरिष्ठ अनुभवी और कुशल डाक्टरों के अलावा छह एमसीएच छात्रों की टीम है। यह टीम मरीजों के उपचार एवं आपरेशन के लिए हर वक्त उपलब्ध रहती हैं। इस वजह से मरीजों की देखभाल बेहतर तरीके से होती है। एमवाय अस्पताल में न्यूरो सर्जरी के लिए एक अलग आपरेशन थिएटर भी है। इसमें आधुनिक माइक्रोसर्जरी, एंडोस्कोपिक सर्जरी आदि की सुविधा उपलब्ध है।

अत्याधुनिक ओटी भी हो रहा तैयार

एमजीएम मेडिकल कालेज के डीन डा. संजय दीक्षित और एमवायएच के अधीक्षक डा. पीएस ठाकुर ने बताया कि प्रस्तावित नए आपरेशन थिएटर कांप्लेक्स में न्यूरो सर्जरी का अत्याधुनिक ओटी भी तैयार किया जाएगा, ताकि गरीब मरीजों को भी विश्वस्तरीय इलाज की सुविधा निश्शुल्क उपलब्ध हो सके। विभाग के अपग्रेडेशन के लिए हाल ही में न्यूरो सर्जरी वार्ड का विस्तार भी किया जा रहा है। यहां एक ही जगह वार्ड, आइसीयू, सेमिनार रूम, फैकल्टी रूम, डाक्टर ड्यूटी रूम इत्यादि की व्यवस्था रहेगी।

नहीं मिला कोई संक्रमित, एक मरीज ठीक भी हुआ

इंदौर। शनिवार को इंदौर में 154 सैंपलों की जांच की गई। इनमें से किसी में भी कोरना का संक्रमण नहीं मिला। राहत की बात यह भी है कि शनिवार को कोरोना का एक उपचाररत मरीज पूरी तरह से ठीक भी हुआ। इसके बाद इंदौर में कोरोना के उपचाररत मरीजों की संख्या सिर्फ दो रह गई है। इन दोनों ही उपचाररत व्यक्तियों की हालत नियंत्रित बताई जा रही है।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close