नईदुनिया आंखों देखी : इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। इंदौर नगर निगम का साकेत स्थित डा. श्यामा प्रसाद मुखर्जी जोन (क्रमांक 10) का दफ्तर। नगर निगम से संबंधित समस्याओं को लेकर यहां वार्ड 38, 39, 40 और 42, 43 के रहवासी आते हैं। शुक्रवार सुबह 10.30 बजे नईदुनिया जोन पर पहुंचा तो कई अफसर-कर्मचारी अपनी कुर्सी से नदारद थे। टीकाकरण कराने के साथ ही, आधारकार्ड और सरकारी योजनाओं की जानकारी लेने वालों का यहां मजमा लगा हुआ था। इसमें ऐसे भी थे जिनका कहना था कि हेल्पलाइन नंबर पर फोन नहीं उठाया जाता और कचरा संग्रहण गाड़ीवाला मनमानी करता है।

टीकाकरण की जिम्मेदारी संभाल रहे अमले के साथ ही सरकारी योजनाओं का लाभ देने वाले शहरी गरीबी उपशमन विभाग में इक्का-दुक्का कर्मचारियों को छोड़ दें तो बाकी दफ्तर सूना था। यहां की चार में से तीन खिड़कियों पर सुबह 11 बजे भी योजना की जानकारी चाहने वालों को जवाब देने वाला कोई नहीं था। हालांकि खिड़की के पास चस्पा पर्चे पर आवेदन लेने का समय सुबह 10.30 से दोपहर 1.30 बजे तक लिखा हुआ था। जलप्रदाय विभाग और आवक-जावक कक्ष में साफ-सफाई चल रही थी। यहां कोरोना की बूस्टर डोज लगाने की अस्थायी सुविधा जारी है। हालांकि यह अमला भी निर्धारित समय से 45 मिनट की देरी से पहुंचा।

रहवासी बोले हम परेशान होते हैं

जोन पर आए सुमित राठौर का कहना है कि जल संवर्धन एवं संरक्षण के लिए नियुक्त अधिकारियों के साथ हेल्पलाइन नंबर दिया गया है ताकि अपनी समस्या के लिए इन्हें अवगत करा सकें। हेल्पलाइन नंबर पर फोन कोई उठाता नहीं है। हम लोग परेशान होते हैं। जोन के अंतर्गत स्कीम नंबर 134 में रहने वाले विनय त्रिपाठी कहते हैं कि कचरा संग्रहण गाड़ी आकर कब निकल जाती है, पता नहीं चलता। कई बार महिला और बच्चों को डास्टबिन हाथ में लिए आवाज लगाते दौड़ते देखा गया है। कुछ कहो तो कहते हैं जिससे शिकायत करना है कर दो, इसलिए आज जोन पर आया हूं।

जोनल अधिकारी भास्कर मोयदे से सीधी बात -

प्रश्न - यहां किन वार्ड के रहवासियों की समस्या का समाधान होता है?

उत्तर - इस जोन के अंतर्गत पांच वार्ड 38, 39, 40, 42 और 43 आते हैं। यहां के वोटर की संख्या एक लाख से अधिक है। यहां शहरी गरीब उपशमन विभाग, राजस्व, आवक जावक, कंट्रोल रूम, स्वास्थ्य विभाग, आधार पंजीयन केंद्र के साथ टीकाकरण केंद्र भी है।

प्रश्न - कचरा संग्रहण गाड़ीवालों की मनमानी और हेल्प नंबर पर सुनवाई न होने की शिकायत रहवासी कर रहे हैं?

उत्तर - जिस क्षेत्र के कचरा संग्रहण गाड़ी वाले की शिकायत आई उसका निराकरण किया जाएगा। हेल्पलाइन पर लोग अपनी समस्याओं की जानकारी देते हैं तो उसका निराकरण करते हैं। ऐसा कभी हुआ तो संबंधित कर्मचारी से इस संबंध में बात की जाएगी।

प्रश्न - कुछ कर्मचारी निर्धारित समय पर दफ्तर में नहीं पहुंचे थे?

उत्तर - कर्मचारी सामन्यत: निर्धारित समय पर आ जाते हैं। कुछ कर्मचारी फील्ड में भी होते हैं। राजस्व विभाग के बिल कलेक्टर, ड्रेनेज विभाग से जुड़े लोग भी फील्ड में अपने काम पर होते हैं। सभी को निर्धारित समय सीमा का पालन करने के लिए समय-समय पर निर्देशित किया जाता है।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close