इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि, Navratri Festival 2021 Indore। शक्ति उपासना के पर्व नवरात्र का समापन गुुरुवार को हुआ। इस मौके पर शक्ति स्वरूपा मान कन्याओं का पूजन कर मां सिद्धिदात्री से सुख-समृद्धि-सिद्धि की कामना की गई। इस अवसर पर मठ-मंदिरों में आयोजित यज्ञ हवन और अनुष्ठानों की पूर्णाहुति हुई। माता के श्रृंगारित स्वरूप के दर्शन के लिए माता मंदिरों में भक्तों की कतार लगी। बंगाली समाज के पांच दिनी दुर्गा पूजा का समापन दशमी पर शुक्रवार को सिंदूर खेला के बाद होगा।

बंगाली क्लब नौलखा में सुबह नौ बजे सिंदूर खेला का आयोजन होगा। इसके बाद माता को विदाई दी जाएगी। आयोजन समिति के अंबुज दत्ता बताते हैं माता अपने मायके आती हैं और दशमी पर शुक्रवार को उन्हें विदाई दी जाएगी। द आर्ट आफ लिविंग द्वारा विश्व शांति और पीड़ा मुक्ति के लिए आयोजित यज्ञ का समापन हुआ। यज्ञ स्वामी शुद्ध चैतन्य व स्वामी रामदास के सानिध्य में हुआ। इस मौके पर उन्होंने कहा कि नवरात्र सभी के दुख और पीड़ा को हरने वाला पर्व है। माता के विभिन्न स्वरूपों की आराधना की जाती है।

गीता भवन में अनुष्ठानों की पूर्णाहुति

गीता भवन में रामचरितमानस व दुर्गा सप्तशती पाठ की पूर्णाहुति हुई। अध्यक्ष गोपालदास मित्तल व मंत्री राम ऐरन ने बताया कि इस अवसर पर माता मंदिर और राम दरबार का आकर्षक श्रृंगार किया गया था। एरोड्रम रोड स्थित श्री श्रीविद्याधाम सग्रहमख शतचंडी महायज्ञ की पूर्णाहुति हुई। पं. राजेश शर्मा के निर्देशन में नवरात्र के दौरान प्रतिदिन ललिता सहस्त्रार्चना भी की गई। लाड़काना मां अंबिका आश्रम बाणगंगा में महानवमी पूजन 15 अक्टूबर को किया जाएगा। विसर्जन 16 अक्टूबर को होगा।

701 दीपों आरती की

कैट रोड स्थित ट्रेजर फैंटेसी कालोनी में 701 दीपों से माता की आरती की गई। आयोजन समिति के विक्की मालवीय और अमित शर्मा ने बताया नवरात्र के दौरान प्रतिदिन विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। 100 बालिकाओं द्वारा प्रतिदिन गरबा खेला गया। इस मौके पर आलोक गुप्ता, राम पाटीदार, ओमप्रकाश अग्रवाल, दिनेश वर्मा, गिरीश पाटीदार उपस्थित थे।

Posted By: gajendra.nagar

NaiDunia Local
NaiDunia Local