Road Safety Indore: इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। सड़क हादसों में मौत के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। इसका मुख्य कारण यह है कि दो पहिया वाहन चालक हेलमेट का उपयोग नहीं कर रहे हैं। हादसों को कम करने के लिए चलाए जा रहे जागरूकता अभियान भी बेअसर साबित हो रहे हैं। साल 2021 में जिले में सड़क दुर्घटनाओं में 374 लोगों की मौत हो चुकी है। यानि रोजाना एक व्यक्ति की मौत सड़क हादसे में हुई है। वहीं शहरी क्षेत्र में 196 लोगों की मौत हुई है। इनमें अधिकांश ने हेलमेट नहीं पहना था। सभी को पता है कि हेलमेट दुर्घटना में जान बचाने में बहुत कारगर साबित हो सकता है इसके बावजूद वाहन चालक पहनते नहीं हैं। शहर में अनुमानित 30 प्रतिशत चालक ही हेलमेट पहनकर वाहन चलाते हैं। पुलिस हर चौराहों पर चेकिंग कर हेलमेट न पहनने वालों के खिलाफ चालानी कार्रवाई भी कर रही है, लेकिन चालक हेलमेट पहनने के बजाय जुर्माना भरने को तैयार हो जाते हैं।

शहर के यह स्पाट जहां सबसे ज्यादा हादसे

शहर में लवकुश चौराहा, लेंटर्न चौराहा, बापट चौराहा, तलावली चांदा, देवास नाका, रालामंडल, राऊ गोल चौराहा, तीन इमली चौराहा, बिचोली मर्दाना, चंदन नगर चौराहा, बेस्ट प्राइज बायपास रोड, वैष्णव कालेज के सामने उज्जैन रोड स्थानों को ब्लैक स्पाट घोषित किया गया है। यहां सबसे ज्यादा सड़क हादसे होते हैं। साल 2021 में इन स्थानों पर 23 सड़क दुर्घटनाएं हुई हैं, जिसमें 21 लोग अपनी जान गवां चुके हैं। लापरवाही के कारण ही सबसे ज्यादा हादसे हो रहे हैं। सड़कों पर तेज गति से वाहन चलाना, हेलमेट न पहनना, सीट बेल्ट नहीं लगाना आदि कई कारण हैं। वाहन चलाने में सतर्कता भी हादसे को टालने में कारगर साबित होती है।

जुर्माना भरने को तैयार, पर हेलमेट नहीं लगा रहे

यातायात नियमों के पालन करने में वाहन चालक लापरवाही बरत रहे हैं। अनुमानत: सड़क से गुजरने वाले हर 10 में से सात दो पहिया वाहन चालक बिना हेलमेट के ही हैं। साथ ही नाबालिग भी वाहन चलाते नजर आते हैं। इस कारण कई बार हादसे भी हो चुके हैं, लेकिन कोई सबक लेने को तैयार नहीं। यातायात पुलिस द्वारा की गई चालानी कार्रवाई में सबसे ज्यादा बिना हेलमेट वाहन चलाने वालों के चालान बनाए गए हैं। वाहन चालक जुर्माना भरने को तैयार हैं, लेकिन हेलमेट नहीं लगा रहे हैं।

हेलमेट से बच रही जान

शहर में हुए अधिकांश हादसों में यह देखा गया है कि हेलमेट पहनने वाले वाहन चालक की चोट तो लगती है, लेकिन उसकी जान बच जाती है। कुछ दिनों पहले मांगलिया बायपास पर बाइक सवार दंपती को अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी थी। जिसमें महिला की मौत हो गई और पुरुष बच गया। इसका कारण यह रहा कि पुरुष ने हेलमेट पहन रखा था।

अधिकांश सड़क हादसों में हेलमेट नहीं पहनने के कारण वाहन चालक अपनी जान गवां देते हैं। हादसों को रोकने के लिए निरंतर जागरूकता अभियान भी चलाया जा रहा है। वाहन चालकों को जागरूक होने की आवश्यकता है। यातायात के नियमों का पालन करना चाहिए, ताकि आप सुरक्षित रहें।

-अनिल पाटीदार, ट्रैफिक एडीसीपी

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close