इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। मप्र पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने नव वर्ष में सेल्फ मीटर रीडिंग प्रक्रिया में बदलाव कर उपभोक्ताओं को पहले के मुकाबले ज्यादा सुविधा दी है। पहले माह में 1 से 5 तारीख तक ही सेल्फ मीटर रीडिंग की सुविधा थी। अब बिलिंग शेड्यूल के अनुसार माह में कभी भी तय दिन उपभोक्ताओं को मिलेंगे। प्रत्येक जोन व वितरण केंद्र की स्थानीय व्यवस्था के आधार पर तय दिनों की जानकारी उपभोक्ताओं को ऊर्जस एप नोटिफिकेशन के साथ ही पंजीकृत मोबाइल पर एसएमएस के माध्यम से दी जा रही है।

मप्र पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के अधीक्षण यंत्री सुनील पाटौदी ने बताया कि प्रबंध निदेशक अमित तोमर के आदेश पर सेल्फ फोटो मीटर रीडिंग प्रकिया को आसान बनाया गया है। अब उपभोक्ताओं को ऊर्जस एप के माध्यम से रीडिंग भेजने की सुविधा संबंधित जोन, वितरण केंद्र के बिलिंग शेड्यूल के आधार पर मिलेगी। यह माह की 1 से 30 तारीख तक कभी भी हो सकती है। इस दौरान शेड्यूल अवधि में दर्ज सेल्फ पीएमआर बिलिंग में स्वीकार की जाएगी और इसी आधार पर बिल तैयार होंगे।

एसएमएस से मिलेगी मीटर रीडिंग दर्ज होने की सूचना - अधीक्षण यंत्री पाटौदी ने बताया कि सेल्फ पीएमआर भेजने वालों को एसएमएस से भी रीडिंग दर्ज होने की सूचना मिलेगी। इसी रीडिंग के हिसाब से बिजली बिल तैयार होगा। बिजली कंपनी सेल्फ मीटर रीडिंग प्रक्रिया से तैयार बिल पर रीडर के नाम की जगह सेल्फ मीटर रीडिंग भी दर्ज करेगी। यह टीप उपभोक्ता संतुष्टि के लिए कारगर साबित होगी।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local