इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना महामारी के दौर में जब शारीरिक दूरी के नियम का पालन लोगों से कराने के लिए जब सिनेमाघरों, सभागृहों में ताले लग गए तब शहर में एक ऐसे थियेटर ने अाकार लेना शुरू किया जो इन सब समस्याओं का समाधान साबित हो। ऐसे में दो युवा बिजनेसमैन ने प्रदेश के सबसे बड़े ड्राइविंग थियेटर को शुरू करने की योजना बनाई जो अब आकार ले रही है।

यह एक ऐसा थियेटर होगा जहां लोग अपनी गाड़ी में ही बैठे-बैठे इनका आनंद ले सकेंगे। संभावित रूप से यह थियेटर नए साल से दर्शकों के लिए शुरू भी हो जाएगा। इस ओपन थियेटर में न केवल फिल्म बलि्क रंगकर्म, संगीत आदि का आनंद भी दर्शक ले सकेंगे। यह थियेटर राऊ-देवास मार्ग पर आकार ले रहा है।

6 एकड़ में विकसित होने वाले इस थियेटर को सिने व्हील ड्राइविंग थियेटर नाम दिया गया है। यहां दर्शक अपने दो व चार पहिया वाहन पर बैठक ही फिल्म आदि का आनंद ले सकेंगे। मप्र पर्यटन बोर्ड द्वारा मुहैया कराई गई भूमि पर यह थियेटर और अन्य प्रोजेक्ट यहां दो बिजनेसमैन द्वारा शुरू किए जा रहे हैं। निजी प्रयासों से शुरू होने वाले इस प्रोजेक्ट में सबसे पहले ड्राइविंग थियेटर की शुरुआत होने जा रही है। कुल 500 वाहनों की क्षमता वाला यह थियेटर 6 करोड़ की लागत में बन रहा है जिसमें योरोप से लाई गई कर्व स्क्रीन लगाई जाएगी।

6 हजार स्क्वेअरफिट की सक्रीन पर देखेंगे फिल्म

ड्राइविंग थियेटर के निदेशक सुयश मालू और ऋषभ सेठी बताते हैं कि यह थियेटर बनाने का निर्णय उन्होंने उस वक्त लिया जब कोरोनाकाल में उन्होंने सिनेमाघर में नहीं जा पाने की कमी को महसूस किया। तब उन्हें लगा कि ऐसा थियेटर विकसित किया जाए जहां शारीरिक दूरी के नियमों का पालन भी हो सके और मनोरंजन भी हो सके। यही नहीं जब फिल्म प्रदर्शित नहीं हो तो वहां दर्शक नाटक, संगीत आदि का आनंद भी ले सकें।

अन्य शहरों की अपेक्षा यह थियेटर विशेष इसलिए होगा क्योंकि यहां वाहनों को खड़ा करने के लिए समतल भूमि नहीं बलि्क सीढ़ीनुमा आकार दिया गया है जिससे सबसे पीछे खड़ी गाड़ी में बैठे व्यकि्त को भी स्क्रीन साफ नजर आए। यहां 6 हजार स्क्वेअर फीट की स्क्रीन लगाई गई है जिसका प्रोजेक्शन 5 हजार स्क्वेअर फीट होगा।

होगा शारीरिक दूरी का पालन

बात अगर चार पहिया वाहनों के पार्किंग की करें तो 10 पंकि्तयां तैयार की गई हैं। हरेक पंकि्त में 20 वाहन खड़े हो सकेंगे। इसके अलावा 300 दो पहिया वाहन एक बार में यहां खड़ेकर फिल्म देखी जा सकेगी। दर्शक चाहें तो गाड़ी में बैठकर भी फिल्म का आनंद ले सकेंगे और चाहें तो अपने वाहन के बाहर कुर्सी रखकर भी फिल्म देख सकेंगे। इस तरह शारीरिक दूरी के नियम का पूरी तरह से पालन होगा। यही नहीं यहां फूड झोन से जो खाद्य सामग्री लेना चाहेंगे उन तक खाद्य सामग्री पहुंचाई जाएगी और यह बुकिंग भी टिकट की तरह आनलाइन ही होगी।

13 हेक्टेयर भूमि पर होगा विकास

सूत्रों से मिली जानकारी के आधार पर इस प्रोजेक्ट के लिए मप्र पर्यटन बोर्ड द्वारा यह भूमि आवंटित की गई है। यह 13 हैक्टर भूमि 90 वर्ष की लीज पर दी गई है। यहां थियेटर के अलावा क्लब, रिसोर्ट, होटल, बच्चों के लिए प्ले जोन आदि बनेगा।

एक नजर थियेटर की खास बातों पर

* एक दिन में 2 से 3 शो यहां प्रदर्शित होंगे।

* शो के टिकट वीआइपी, दो पहिया और चार पहिया तीन दरों पर होंगे।

* टिकट की बुकिंग आनलाइन होगी।

* टिकट बुकिंग के आधार पर होगा स्थान क्रमांक आवंटित।

* जिस वक्त यहां फिल्म का प्रदर्शन नहीं होगा तब यहां लाइव म्यूजिक, प्ले आदि प्रदर्शित किए जा सकेंगे।

* योरोप से लाया गया है फिल्म प्रर्दशन के लिए प्रोजेक्शन।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local