*खनिज अधिकारी प्रदीप खन्नाा ढाई करोड़ के बंगले में रहने जाता, इसके पहले ही लोकायुक्त टीम पहुंची

*3200 वर्ग फीट भूखंड पर बना है मकान, वुडन फ्लोरिंग, एसी, एलसीडी का है प्रबंध

इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। खनिज अधिकारी प्रदीप खन्नाा के यहां लोकायुक्त की कार्रवाई के दूसरे दिन बुधवार को लोकायुक्त की टीमें उसके बैंक खातों और संपत्तियों को खंगालने में जुटी रहीं। अधिकारी जब उसके बायपास स्थित स्थित आलीशान बंगले पर पहुंचे तो वहां की आंतरिक सज्जा देखकर हैरान रह गए। खन्नाा वहां रहने जाता, उसके पहले ही लोकायुक्त की जांच टीम वहां पहुंच गई।

डीएसपी प्रवीण बघेल ने बताया कि 6 सदस्यीय टीम बुधवार सुबह करीब 11 बजे माउंटबर्ग टाउनशिप स्थित खन्नाा के बंगले पर पहुंची। 3200 वर्ग फीट के भूखंड पर निर्मित जी प्लस टू भवन में वुडन फ्लोरिंग और मार्बल का काम किया गया है। यह बंगला पूरी तरह वातानुकूलित और सर्वसुविधायुक्त है। वहां आलीशान फर्नीचर में चमचमाती महंगी डाइनिंग टेबल, सोफे, झूमर रौनक बढ़ा रहे हैं। घर में एक मिनी बार भी मिला है।

इन्वेंटरी तैयार की

डीएसपी बघेल ने बताया कि गवाहों की उपस्थिति में मकान में की गई साज-सज्जा का प्रारंभिक मूल्यांकन किया गया। मकान की तीनों मंजिलों की पड़ताल के साथ इन्वेंटरी तैयार की गई जो लगभग दो करोड़ 53 लाख की है। मकान का लागत मूल्य एक करोड़ 41 लाख अनुमानित है। मकान में आंतरिक सज्जा का अनुमानित मूल्य एक करोड़ 12 लाख से ज्यादा है। घर के सामान का अभी इस्तेमाल शुरू भी नहीं हुआ।

बैंकों से मांगी जानकारी

बघेल ने बताया कि खन्नाा के कुछ और बैंक खातों की जानकारी मिली है। इनकी भी जांच की रही है। उसके और परिवार के नाम से जारी लॉकरों की जानकारी के लिए बैंकों को पत्र लिखा गया है।

प्रदेश के बाहर निवेश की आशंका

अधिकारियों के अनुसार खन्नाा द्वारा बेनामी संपत्ति में किए गए निवेश की जानकारी जुटाई जा रही है। आशंका है कि खन्नाा ने प्रदेश के बाहर भी मोटी रकम निवेश की है। जानकारी मिली है कि खन्नाा इंदौर में पदस्थ रहने के दौरान पटेल नगर स्थित फ्लैट से ही दफ्तर संचालित करता था। लोकायुक्त की टीम खन्नाा के इंदौर में पदस्थ रहने के दौरान लीज पर दी गई खदानों की जानकारी भी जुटा रही है। आशंका है कि खदानें लीज पर देने में बड़ा लेनदेन हुआ था।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local