इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि Income Tax Raid Indore। आयकर की इंवेस्टीगेशन विंग की जेआरजी ग्रुप पर छापे और जांच की कार्रवाई बुधवार को भी जारी रही। कार्रवाई के दूसरे दिन समूह से जुड़े लोगों के 15 ठिकानों से आयकर विभाग को कुल एक करोड़ 10 लाख रुपये नकद के साथ 50 करोड़ रुपये के बेनामी लेन-देन का हिसाब मिला है। नकदी को विभाग द्वारा जब्त कर लिया गया है। इससे साथ ही मंगलवार को संचालकों के ठिकानों से 20 लाख से ज्यादा की गहने आयकर के हाथ लगे हैं। 100 से ज्यादा बैंक खातों के रिकॉर्ड भी आयकर की टीमों ने जब्त किए हैं।

जेआरजी ग्रुप के संचालक और भागीदार, घनश्याम गोयल, तिलक गोयल, रोशन पोरवाल, अनिल धाकड़ व अन्य सहयोगी आयकर के छापे की जद में हैं। विभाग की टीमें संचालकों के घर और दफ्तरों पर जांच में जुटी है। जांच के दौरान 12 लॉकरों से नकद राशि बरामद हुई। हिसाब नहीं मिलने पर एक करोड़ 9 लाख रुपये विभाग ने जब्त कर लिए हैं। विभाग को समूह द्वारा दिल्ली की फर्मों और कंपनियों से लेन-देन के दस्तावेज मिले थे। फर्मों की जांच के लिए दो टीमें दिल्ली भी भेजी गई थी। दिल्ली के पते पर रजिस्टर फर्म और कंपनियां बोगस पाई गई है। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि कालेधन को सफेद करने और एंट्री घुमाने के लिए ही इन कंपनियों को कागज पर खड़ा किया गया। रजिस्ट्रेशन में दिखाए गए कंपनियों के पते भी फर्जी निकले।

इनमें से ज्यादातर कंपनियों को बाद में इसी ग्रुप से जुड़े लोगों ने या तो खरीद लिया या फिर संचालकों में शामिल हो गए। इन बोगस फर्मों-कंपनियों के साथ समूह व उससे जुड़े लोगों ने करीब 30 करोड़ का लेन-देन किया। करीब 20 करोड़ का लेन-देन की एंट्री पर्चियों और डायरी में मिली। इसमें कोड वर्ड में नाम लिखे पाए गए। आयकर इंवेस्टिगेशन विंग विभाग उन सभी की पहचान में जुट गया है। आरएनटी मार्ग की मिलिंद मेनोर बिल्डिंग में ग्रुप के कार्पोरेट दफ्तर में भी रिकॉर्ड खंगालती रही। विभाग ने अब अलग-अलग ठिकानों से मिली ज्वैलरी जब्त नहीं की है। टीमें बुधवार को भी ज्वैलरी के मूल्यांकन में लगी रही। गुरुवार तक ज्वैलरी का आंकड़ा भी करोड़ों में पहुंच सकता है। कार्रवाई के दौरान मिले सबूतों से समूह के संचालक आय छुपाने के साथ ही बेनामी एक्ट के दायरे में भी आ सकते हैं।

Posted By: Sameer Deshpande

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस