इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि Adulteration In Indore । खाद्य और औषधि प्रशासन (एफडीए) के दल ने सोमवार को पलसीकर कालोनी में गुरुकृपा ट्रेडिंग कंपनी के गोदाम पर छापामार कार्रवाई की। जांच में पाया गया कि कारोबारी राेहित चांदवानी काली मिर्च पर पाम तेल की पालिश करता है। साथ ही रखी 50 किलो खसखस में इसी से मिलते-जुलते कुछ अन्य दानों की मिलावट पाई गई। प्रयोगशाला में जांच के बाद साफ होगा कि खसखस में किस चीज की मिलावट की गई है।

पलसीकर बगीचे के पास कारोबारी अपने घर के निचले हिस्से में गोदाम बनाकर काली मिर्च और खसखस का कारोबार करता है। उसने इसी साल जनवरी में एफडीए से लाइसेंस लिया था। एफडीए के जांच दल ने यहां से 12 क्विंटल काली मिर्च, 50 किलो खसखस और दो डिब्बों में रखा 30 लीटर पाम तेल जब्त किया।

गुल थी बिजली, पड़ोस से कनेक्शन लेकर की कार्रवाई

एफडीए की टीम जब जांच के लिए पहुंची तो उसी दौरान कारोबारी के गोदाम की बिजली गुल हो गई। इस पर जांच अधिकारियों ने कुछ देर अंधेरे में ही कार्रवाई की, फिर पड़ोस के एक घर से बिजली कनेक्शन लेकर कार्रवाई पूरी की। जांच दल में खाद्य सुरक्षा अधिकारी धर्मेंद्र सोनी, राकेश त्रिपाठी, अवशेष अग्रवाल, हिमाली सोनपाटकी और शरदचंद्र साहू शामिल थे। जांच दल ने यहां से काली मिर्च, तेल और खसखस के नमूने जांच में लिए हैं। मिलावट के मामले में कारोबारी के खिलाफ जूनी इंदौर थाने पर एफआइआर भी दर्ज कराई जा रही है। गौरतलब है कि एफडीए ने आगामी त्योहारों को देखते हुए इन दिनों मिलावटखोरों के खिलाफ अभियान चला रखा है। हाल ही में एफडीए की टीम ने नकली घी बनाने वाली फैक्टरी पर छापा मारा था।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local