Panchayat Elections : इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। पंचायत चुनाव के पहले चरण में शनिवार को इंदौर जिले में मतदान होना है। जिले में 18 ग्राम पंचायतें निर्विरोध चुनकर आ चुकी हैं। बाकी में भाजपा-कांग्रेस के प्रत्याशियों के बीच आमने-सामने की टक्कर है। जिला पंचायत के दो वार्डों में भी निर्विरोध चुनाव हो चुका है। भाजपा और कांग्रेस दोनों अपने-अपने पक्ष में दावे कर रहे हैं। दोनों का कहना है कि हवा का रुख उनकी तरफ है।

जिला भाजपा प्रवक्ता वरुण पाल का कहना है कि ग्राम पंचायतों में भाजपा मजबूत स्थिति में है। जितने भी जनप्रतिनिधि निर्विरोध चुने गए हैं वे भाजपा के हैं। इधर कांग्रेस के जिला अध्यक्ष सदाशिव यादव कह रहे हैं कि हमारा पूरा संगठन चुनाव में लगा है। भाजपा ने कुछ जगह फर्जी मतदाता जुड़वाए हैं। जामनिया खुर्द में 60 मतदाता ऐसे मिले हैं जो वहां रहते ही नहीं हैं। हमने इसकी शिकायत भी की है।

बड़े नेताओं ने बनाई दूरी - नगरीय निकाय चुनाव की वजह से ज्यादातर बड़े नेता पंचायत चुनाव से दूरी बनाए हुए हैं। पंचायत चुनाव में आमने-सामने चुनाव लड़ रहे कई प्रत्याशी एक ही परिवार के हैं। कहीं चाचा-भतीजे में मुकाबला है तो कहीं देवरानी-जेठानी आमने-सामने हैं। यही वजह से कि इस चुनाव में नगरीय निकाय चुनाव जैसी टसल नजर नहीं आती।

इंदौर जिले में 1417 मतदान केंद्र बनाए

इंदौर जिले में पंचायत चुनाव के लिए मतदान दल शुक्रवार को रवाना होंगे। निर्वाचन कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार इंदौर जिले के इंदौर, सांवेर, महू और देपालपुर जनपद और ग्राम पंचायत के चुनाव के लिए शुक्रवार सुबह मतदान दल रवाना होंगे। इसके लिए 1417 मतदान केंद्र बनाए गए हैं जिनमें छह हजार से अधिक कर्मचारियों की डयूटी लगाई गई है। जानकारी के अनुसार इंदौर जनपद के लिए बसें आर्ट्स एंड कामर्स कालेज से रवाना होंगी। सांवेर की बसें सांवेर मंडी से, महू की बसें भेरूलाल पाटीदार कालेज से रवाना होंगी। देपालपुर के लिए बसें देपालपुर से ही रवाना होंगी। चुनाव में जिला पंचायत, जनपद पंचायत सदस्य के साथ पंच और सरपंच का चुनाव होगा। मतदाताओं को चार बैलेट पत्र दिए जाएंगे।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close