Pathan Movie Protest : इंदौर (टीम नईदुनिया प्रतिनिधि)। मध्य प्रदेश के सिनेमाघरों में बुधवार को प्रदर्शित शाह रुख खान व दीपिका पादुकोण अभिनीत फिल्म पठान का जमकर विरोध हुआ। हिंदू संगठनों से जुड़े कार्यकर्ता सिंगल स्क्रीन और मल्टीप्लेक्स के बाहर जमा हुए और हाथों में भगवा ध्वज लेकर ‘पठान’ के खिलाफ नारेबाजी की। कुछ स्थानों पर फिल्म के पोस्टर फाड़े तो कुछ सिनेमाघर के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ भी किया। फिल्म का बढ़ता विरोध देख टाकीज संचालकों ने शो रद कर दिए। इंदौर में विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल, दुर्गा वाहिनी, मातृशक्ति समेत अन्य हिंदू संगठनों के कार्यकर्ताओं के हंगामे और नारेबाजी के बीच टाकीज संचालकों ने शो रद कर दिए। सपना संगीता टाकीज, दस्तूर, वेलोसिटी का शो बंद कराकर दर्शकों को सिनेमाघर से बाहर निकाला गया। सी-21 माल के बाहर बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने हनुमान चालीसा का पाठ किया।

उधर, फिल्म पठान के विरोध प्रदर्शन के दौरान हुई नारेबाजी से मुस्लिम समुदाय के लोग भी भड़क गए और सैकड़ों लोगों ने चंदन नगर थाने का घेराव कर दिया। 'मोहम्मद' के खिलाफ अपमानजनक शब्दों का आरोप लगा कार्रवाई की मांग की। अन्नपूर्णा एसीपी बीपीएस परिहार ने लोगों को समझाया, लेकिन प्रकरण दर्ज करने पर तीन घंटे बाद प्रदर्शनकारी थाने से हटे।

भोपाल समेत कई शहरों में विरोध

हिंदू संगठनों द्वारा राजधानी भोपाल के छह सिनेमाघरों के बाहर विरोध प्रदर्शन किया गया। रंगमहल सिनेमा पर लगे पोस्टर को फाड़ा गया। इसके अलावा छिंदवाड़ा, गुना व राजगढ़ जिले में भी फिल्म के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया गया। इनमें गुना व राजगढ़ जिले में फिल्म के शो रद करने पड़े। उधर, जबलपुर में हिंदू सेवा परिषद के कार्यकर्ता समदड़िया माल पहुंचे और फिल्म संचालन का विरोध किया। इस दौरान फिल्म के पोस्टर फाड़े और जलाए गए। कार्यकर्ताओं के विरोध को देखते हुए फिल्म के शुरुआती दो शो रद कर दिए गए।

फिल्म के बैनर, पोस्टर फाड़कर जलाए

प्रदर्शन के दौरान भारी पुलिस बल से कार्यकर्ताओं से कई बार धक्का-मुक्की एवं गहमागहमी भी हुई। ग्वालियर, मुरैना शिवपुरी के अलावा अन्य जिलों में भी विश्व हिंदू परिषद व बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने पठान फिल्म का पहला शो नहीं चलने दिया। कुछ जगह पुलिस मौके पर पहुंची तो प्रदर्शन शुरू हुआ। सुबह से ही मल्टीप्लेक्स और टाकीजों के बाहर प्रदर्शन शुरू हो गया। फिल्म के बैनर, पोस्टर फाड़कर जला दिए गए।

रतलाम में रिलीज नहीं हुई फिल्म, देवास में हिंदू संगठनों के कार्यकर्ताओं का उत्पात

रतलाम के सिनेमाघरों में हिंदू संगठनों के विरोध के चलते बुधवार को फिल्म पठान रिलीज नही हो पाई। गायत्री व लोकेंद्र टाकीज में फिल्म रिलीज होने वाली थी, लेकिन मंगलवार को ही कार्यकर्ताओ ने फिल्म नहीं चलाने की चेतावनी देते हुए विरोध प्रदर्शन किया था। उधर, देवास के एकमात्र सिनेप्लेक्स में फिल्म का पहला शो चला। बाद में बड़ी संख्या में हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं के उत्पात के बाद बाकी शो रद कर दिए गए। विरोध करने वालों ने सिनेमाघर में घुसकर पर्दा भी फाड़ दिया। मंदसौर में शाम को बजरंग दल कार्यकर्ताओं द्वारा फिल्म के पोस्टर जलाए गए, मगर टाकीज में फिल्म चल रही है।

विरोध करने वालों को समझाएंगे नरोत्तम मिश्रा

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि फिल्म में जो आपत्तिजनक दृश्य था, उसे हटा लिया गया है। अब किसी भी तरह का विरोध ठीक नहीं है। विरोध करने वालों को हम समझाएंगे। गौरतलब है कि फिल्म पठान के कुछ दृश्यों को लेकर सबसे पहले गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने ही विरोध जताया था।

फिल्में दर्शकों और समाज के बल पर ही चलती हैं। समाज में कहीं कोई गुस्सा है तो फिल्म बनाने वालों को भी सोचना-समझना चाहिए। हालांकि, आंख बंद करके भी विरोध नहीं होना चाहिए। विरोध करने वालों को भी सोचना चाहिए कि केवल विरोध के लिए विरोध ना हो। भाजपा के वरिष्ठ नेता जयभान सिंह पवैया

मध्य भारत के सभी 32 जिलों में आगे भी फिल्म का विरोध जारी रहेगा। - बजरंग दल के प्रांत संयोजक सुशील सुडैले।

भोपाल में शो रद नहीं हुए हैं। सिनेमा घरों में शो चल रहा है। 70 प्रतिशत तक दर्शकों ने टिकट बुक कराया था, लोग फिल्म देखने भी आए। - मप्र फिल्म एसोसिएशन के सचिव अजीजुद्दीन

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close