Power Cut In Indore: इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। मध्यप्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी इंदौर के प्रबंध निदेशक अमित तोमर ने बुधवार को इंदौर ग्रामीण वृत्त में बिजली व्यवस्था का जायजा लेने पहुंचे। बिजली कंपनी के एमडी ने दूधिया वितरण केंद्र का दौरा किया और खेतों में जाकर सिंचाई के लिए बिजली आपूर्ति देखी। एक ओर खेतों में बिजली आपूर्ति की निगरानी एमडी कर रहे हैं दूसरी ओर इंदौर शहर के उपभोक्ता मनमानी कटौती से परेशान हैं। एयरपोर्ट जैसे शहर के किनारे वाली कालोनियों में हर दिन कटौती हो रही है। राजबाड़ा क्षेत्र के उपभोक्ता भी बेहाल है।

गुरुवार सुबह से राजबाड़ा क्षेत्र के सुभाष चौक जोन के फीडर पर बिजली बंद कर दी गई। रेड हाट वर्क का हवाला देकर बिजली गुल की गई। महीने में करीब दसवीं बार क्षेत्र में रेड हाट वर्क के नाम पर बिजली गुल की गई। बिजली इंजीनियरों के अनुसार उपकरण जलने के कारण सुधार के कटौती करना पड़ रही है। दूसरी ओर एयरपोर्ट क्षेत्र में हर दिन तीन से चार घंटे बिजली गुल हो रही है। एयरपोर्ट के सामने की ओर की कालोनियां बाबू मुराई, चौरसिया नगर जैसे क्षेत्र के सैकड़ों घरों में हर दिन कभी भी अघोषित रूप से बिजली बंद कर दी जाती है। एयरपोर्ट जोन के उपभोक्ता कम से कम डेढ़ महीने से शिकायत कर रहे हैं लेकिन बिजली कंपनी ध्यान नहीं दे रही। हवाला दिया जा रहा है कि सिहांसा की ओर से आने वाली लंबी लाइन के कारण क्षेत्र में ज्यादा फाल्ट होते हैं।

इससे पहले बुधवार को खातीवाला से भंवरकुआं, इंद्रपुरी, विष्णुपुरी क्षेत्र में छह घंटे बिजली गुल रही थी। इंदौर शहर वृत्त के अधीक्षण यंत्री मनोज शर्मा अघोषित कटौती से अंजान है। उनका कहना है कि उन्हें इस बारे में न तो जानकारी है न ही उपभोक्ताओं की ओर से कोई परेशानी की शिकायत उन तक पहुंची है। वे बिजली कंपनी के स्काडा के आंकड़े पेश कर रहें हैं कि आपूर्ति सुगम है। असलियत ये है कि शहर के तमाम फीडरों को स्काडा सिस्टम से जोड़ा ही नहीं गया है। ऐसे फीडरों पर मनमानी कटौती की जा रही है।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close