मालवा-निमाड़ (हमारे प्रतिनिधि)। अंचल में बुधवार को आंधी और बारिश से कई मकान क्षतिग्रस्त हो गए। पेड़ भी धराशायी हुए हैं। मंदसौर जिले में बिजली गिरने से बालक घायल हो गया। प्री-मानसून बारिश ने ठंडक घोल दी है।बड़वानी जिले के सेंधवा में देर रात 2 बजे से तेज बारिश हुई। सुबह 7 बजे तक 26 मिमी बारिश हो चुकी थी। शहर के निकट अंतरप्रांतीय खेतिया मार्ग का नाला उफान गया।

खरगोन के ग्राम जामन्या (भीकनगांव) में आंधी-बारिश से करीब 35 कच्चे मकान क्षतिग्रस्त हो गए। वहीं भगवानपुरा और भीकनगांव में भी बारिश के समाचार हैं।

शाजापुर व आगर जिले में बुधवार शाम आंध-बारिश हुई। कुछ गांवों में ओले भी गिरे। शाजापुर में नई सड़क, बस स्टैंड, एबी रोड पर पेड़ की टहनियां टूटकर जमीं पर आ गिरी। हाईवे पर कुछ देर के लिए जाम की नौबत पर आई। शुजालपुर में एक घंटे तक तेज बारिश हुई, जबकि पास के जेठड़ा व अमलाय में ओले भी गिरे। आगर समेत अन्य स्थानों पर भी बारिश का दौर जारी रहा।

गरोठ (मंदसौर) में शाम को 15 मिनट तक बरसात हुई। ग्राम पिपलिया जत्ती में बिजली गिरने से गरोठ निवासी 12 वर्षीय रविनाथ पिता मांगूनाथ घायल हो गया।

खालवा (खंडवा) में आंधी के साथ लगभग आधे घंटे बारिश हुई। इससे साप्ताहिक हाट बाजार अस्त-व्यस्त हो गया। बिजली बंद होने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। देवास जिले, झाबुआ के मेघनगर और धार के सादलपुर क्षेत्र में एक घंटे जमकर बारिश हुई।

पर्जन्य पूरा होते ही बरसे बादल

उज्जैन में देशभर में अच्छी बारिश की कामना से महाकालेश्वर मंदिर में किए गए पर्जन्य अनुष्ठान की बुध्ावार दोपहर पूर्णाहुति हुई। शाम ढलते-ढलते गर्जना के साथ शहर में मेघ बरस पड़े। इससे मंदिर प्रशासन व पुजारियों के चेहरे खुशी से खिल उठे।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close