इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि, Railway Indore News। इंदौर-पटना एक्सप्रेस को एलएचबी रैक सेे चलाने में लगातार देरी हो रही है। पहले यह ट्रेन 18 अक्टूबर से एलएचबी रैक से चलने वाली थी, लेकिन कुछ कारणों से ऐसा नहीं हुआ। ऐसा भी नहीं है कि रतलाम रेल मंडल को पटना ट्रेन के लिए एलएचबी रैक नहीं मिले हैं। अब तक दो एलएचबी रैक पटना एक्सप्रेस के लिए आ गए हैं।

रेल सूत्रों का कहना है कि पटना ट्रेेन को एलएचबी से चलाने के लिए दो रैक की ही जरूरत है और दोनों रैक इंदौर आ चुके हैं। परेशानी जनरेटर कार की है, जो कम हैं। फिलहाल बोर्ड से जनरेटर कार मिलने का इंतजार हो रहा है। जैसे ही जनरेटर कार का कोच मिलेगा, वैसे ही ट्रेन को एलएचबी रैक से चलाने का फैसला हो जाएगा। इसके लिए अधिसूचना जारी कर तारीख तय की जाएगी। पटना एक्सप्रेस इंदौर से चलने वाली सबसे लोकप्रिय ट्रेनों में से एक है। सालभर में यदा-कदा ही इसमें भीड़ कम रहती है या सीधे कन्फर्म टिकट मिल पाते हैं। पीक सीजन में तो इस ट्रेन के सामान्य कोच में यात्रियों को बैठानेे के लिए कतार लगाकर आरपीएफ के सहयोग से व्यवस्था करनी पड़ती है। फिर लोग बारी-बारी से कोच में सवार होते हैं।


ज्यादा यात्री कर सकेंगे सफर

सप्ताह में तीन दिन चलने वाली इंदौर-पटना एक्सप्रेस वर्तमान में परंपरागत रैक से चलती है। एलएचबी रैक से चलनेे के बाद उसमें यात्रियों की क्षमता बढ़ जाएगी। इससे न केवल ट्रेन की वेटिंग कम करने में मदद मिलेगी, बल्कि एक बार में हर श्रेणी में वर्तमान से ज्यादा यात्री सफर करेंगे। रेलवेे जानकारों का कहना है कि दीपावली के पहले रेलवे को जल्द ट्रेन को एलएचबी में बदलना चाहिए। इससे यात्रियों का दबाव कम करने में मदद मिलेगी।

Posted By: gajendra.nagar

NaiDunia Local
NaiDunia Local