Ram Katha in Indore इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जीवन में किसी का दीवाना बनना है तो भगवान राम के दीवाने बनो। जो जिज्ञासु भक्त होते हैं वो भगवान को जानने का हमेशा प्रयास करते हैं। ज्ञानी भक्त ही सर्वश्रेष्ठ होते हैं। जिसे भगवान की कृपा का ज्ञान हो जाता है वही सबसे बड़ा ज्ञानी होता है। ज्ञानी वही है जो भगवान पर सबकुछ छोड़ देता है। जो भगवान पर संदेह करता है वो मूर्ख होता है। जीवन में संतों का संग होना ही भक्ति है। संतों की सेवा से बड़ी कोई सेवा नहीं होती है। इसलिए हमेशा संतों की सेवा करनी चाहिए। संसार में राम के गुण गाने मात्र से ही पाप मिट जाते हैं।

यह बात बागेश्वर धाम सरकार पं. धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने आइटीआइ रोड स्थित मां कनकेश्वरी देवी गरबा परिसर पर कही। वे नौ दिनी श्रीराम कथा के पांचवें दिन मंगलवार को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि गुरु, संत, ब्राह्मण जब भी घर आएं तो उन्हें हमेशा भोजन कराना चाहिए। इससे पुण्य मिलता है। संसार में हमेशा भूखे को भोजन कराना और प्यासे को पानी पिलाना चाहिए। सुख-दुख में हमेशा समान भाव में रहना चाहिए। जीवन में धनवान बन जाओ तो सद्कार्यों पर खर्च करो। संपत्ति ही विपत्ति का कारण है। चित्र नही चरित्र में जीना सीखो। व्यासपीठ का पूजन-अर्चन भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय, विधायक रमेश मेंदोला, राजेंद्र राठौर, गणेश गोयल, चंदू शिंदे, महामंडलेश्वर लक्ष्मणदास महाराज, रामगोपालदास महाराज, संतोषानंद महाराज ने किया। कथा 28 मई तक प्रतिदिन शाम 4 से 7 बजे तक होगी।

आरोग्यता की कामना से पार्थिव शिवलिंग का निर्माण

मांगलिया। आरोग्यता की कामना से मंगलवार को मांगलिया में पार्थिव शिवलिंग का निर्माण कर रुद्राभिषेक किया गया। निर्माण और अभिषेक का सिलसिला सुबह 9 बजे से दोपहर 1 बजे तक चला। इसमें सैकड़ों महिलाओं ने भाग लिया। इस अवसर पर कांग्रेस की जिलाध्यक्ष रीना बौरासी ने महिलाओं का स्वागत हल्दी कुमकुम लगाकर किया। यह आयोजन 15 स्थानों पर आयोजित किया गया। आने वाले दिन में 100 से अधिक स्थानों पर यह आयोजन होगा। इस मौके पर आशीष सेतिया, भारत शर्मा, सत्यनारायण शर्मा, जितेंद्र चौहान, गोलू यादव आदि मौजूद थे।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close