इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि IIM Indore News। हमेशा प्रासंगिक बने रहने और प्रत्येक प्रतिभागी को विश्व स्तरीय शिक्षा देने के लिए प्रतिबद्ध भारतीय प्रबंध संस्थान इंदौर (आइआइएम इंदौर) ने कार्यकारी अधिकारियों के लिए दुबई, संयुक्त अरब अमीरात में कई पाठ्यक्रम शुरू किए थे। इसमें दाे कार्यक्रम रणनीतिक वित्तीय प्रबंधन और डिजिटल वर्ल्ड में रणनीतिक विपणन प्रबंधन कार्यक्रम का समापन 12 अक्टूबर को हुआ।

यह कार्यक्रम आइआइएम इंदाैर के निदेशक प्रो. हिमांशु राय और डा. महेश चोटरानी की उपस्थिति में हुआ। इस मौके पर प्रो. राय ने पाठ्यक्रम पूर्ण करने के लिए प्रतिभागियों को शुभकामनाएं दीं। उन्होंने अंग्रेजी के फायर शब्द पर ध्यान केंद्रित करने और उसे समझने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि दिल की सुनें, रिश्तों में निवेश करें और सफलता को नए सिरे से परिभाषित करें और सहानुभूति रखें। खुले दिमाग और दिल से हर नए व्यक्ति से मिलें, क्योंकि हर कोई आपको कुछ न कुछ सीखा सकता है। यदि आप इस भ्रम में जियेंगे कि आप सब कुछ जानते हैं तो आप कभी भी कुछ नया नहीं सीख पाएंगे। इससे आपको अपने रिश्तों को मजबूत करने में भी मदद मिलेगी।

उन्होंने बैच के प्रतिभागियों को सलाह दी कि वे अपनी क्षमता के अनुसार काम करें और उन लोगों की मदद करने के लिए प्रयास करें जिन्हें हमारे जैसे विशेषाधिकार प्राप्त नहीं हैं। किसी भी कार्य को करने के लिए मात्र जुनून ही पर्याप्त नहीं है। दृढ़ता ही लक्ष्यों को प्राप्त करने की कुंजी है। सहानुभूति तब होती है जब आप न केवल दूसरों की परेशानियों और नुकसानों से प्रभावित होते हैं बल्कि आप उनके दर्द को कम करने के लिए भी कुछ करते हैं। कार्यक्रम में प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र भी दिए गए। संयुक्त अरब अमीरात में आइआइएम इंदौर के पूर्व विद्यार्थियों की संख्या अब 300 से अधिक है।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local