इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। अनलॉक-5 के तहत मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारे, चर्च सहित सभी धर्मस्थल अब खुलने जा रहे हैं। इसके लिए कलेक्टर मनीष सिंह ने सोमवार को कुछ शर्तों के साथ आदेश जारी किए हैं। धर्मस्थल आने वाले श्रद्धालुओं को ही नहीं, पुजारी, मौलवी और फादर को भी मास्क लगाना अनिवार्य होगा।

बड़े धर्मस्थलों के गर्भगृह में प्रवेश पर रोक रहेगी। इसके साथ ही शहर की रात्रिकालीन सराफा चौपाटी भी फिर गुलजार हो सकेगी। हालांकि लोग पहले की तरह यहीं बैठकर व्यंजनों का लुत्फ नहीं ले पाएंगे। यहां से वे खाद्य सामग्री पैक करवाकर ले जा सकेंगे। इसका पालन कराने की जिम्मेदारी दुकानदार पर रहेगी।

धर्मस्थलों पर करना होगा इन नियमों का पालन

- श्रद्धालुओं को शारीरिक दूरी का पालन करना होगा। मास्क अनिवार्य होगा।

- पुजारियों के लिए भी मास्क अनिवार्य होगा। वे मास्क नीचे करके धार्मिक क्रिया-कलाप नहीं कर सकेंगे।

- धर्मस्थलों में स्थायी तौर पर चलने वाले अन्न क्षेत्र शुरू हो सकेंगे, लेकिन वहां श्रद्धालुओं को 6 फीट की दूरी पर बैठाना होगा।

- सभी धर्मस्थलों में सैनिटाइजेशन या साबुन से हाथ धोना अनिवार्य रहेगा। धर्मस्थल प्रबंधन की जिम्मेदारी रहेगी कि वे इसका पालन कराएं।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020