इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। सोमवार को बाणगंगा रेलवे क्रासिंग से आइएसबीटी तक बनने वाली (आरडब्ल्यू 1 ) सड़क का भूमिपूजन हुआ। इस सड़क को नगर निगम द्वारा इंदौर विकास प्राधिकरण के सहयोग से बनाया जाना है। 21 करोड़ 52 लाख रुपये की लागत से इस 1.70 किलोमीटर लंबी एवं 30 मीटर चौड़ी छह लेन की सीमेंट कांक्रीट सड़क का निर्माण करने की योजना है।

सोमवार को सांसद शंकर लालवानी, आइडीए अध्यक्ष जयपाल सिंह चावड़ा, विधायक रमेश मेंदोला ने इस सड़क का भूमिपूजन किया। इस अवसर पर पूर्व विधायक सुदर्शन गुप्ता, पूर्व एमआइसी सदस्य चंदूराव शिंदे सहित अन्य जनप्रतिनिधि और औद्योगिक संघ के अध्यक्ष प्रमोद डफरिया, सिटी इंजीनियर अशोक राठौर व अन्य विभाग के अधिकारी तथा क्षेत्रीय नागरिक उपस्थित थे। भूमिपूजन के मौके पर सांसद लालवानी ने कहा कि हम पिछले सिंहस्थ के समय जब कार्य कर रहे थे तब हमने देखा कि इंदौर से उज्जैन जाने वाली सड़क पर वाहनों का बहुत दबाव रहता है। इसके कारण सिंहस्थ के समय अस्थाई बस स्टैंड का निर्माण किया गया था। सांसद ने बताया कि रोड निर्माण के लिए कई विभाग के साथ बैठक की गई और उनसे चर्चा कर रोड का निर्माण किया गया। इसी को आगे बढ़ाते हुए मास्टर प्लान के अनुसार इंदौर विकास प्राधिकरण एवं नगर निगम द्वारा बाणगंगा रेलवे क्रासिंग से आइएसबीटी तक सड़क का निर्माण कार्य का भूमिपूजन किया गया है।

मध्य क्षेत्र की महत्वपूर्ण सड़क होगी - इंदौर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष जयपाल सिंह चावड़ा ने कहा कि यह सड़क शहर के तीन रेलवे स्टेशन (मुख्य रेलवे स्टेशन, नेहरू पार्क स्टेशन एवं लक्ष्मीबाई नगर स्टेशन) व तीन बस स्टैंड (सरवटे बस स्टैंड, गंगवाल बस स्टेशन, आइएसबीटी बस स्टैंड) को जोड़ने का कार्य करेगी। बाणगंगा रेलवे क्रासिंग से आइएसबीटी तक मास्टर प्लान के तहत निर्माण की जाने वाली यह शहर के मध्य में महत्वपूर्ण रोड में से एक होगी। इससे शहर के मध्य क्षेत्र से उज्जैन जाने वालों को सुविधाजनक और बेहतर मार्ग मिलेगा। रोड निर्माण में बाधक मकानों के मालिकों को उचित स्थान पर स्थानांतरित किया जाएगा। इस सड़क निर्माण के साथ ही रिटेनिंग वाल, फुटपाथ निर्माण, लाइटिंग, इलेक्ट्रिक पोल शिफ्टिंग आदि का कार्य किया जाएगा ।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close